Hindi

वेम्बले में बोले पीएम मोदी, ‘मेहरबानी नहीं बराबरी चाहता है भारत’

Narendra-Modi_

लंदन। संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की भारतीय दावेदारी पर बिना कोई सीधी टिप्पणी किए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि भारत अब दुनिया की मेहरबानी नहीं चाहता हम अब बराबरी चाहते हैं। दुनिया का भारत के प्रति बदला नजरिया एक शुभ संकेत है।

टर्की में जी-20 सम्मेलन में जाने से पहले आतंकवाद और ग्लोबल वार्मिंग पर उन्होंने कहा कि इन दोनों बड़ी समस्याओं से मानव जाति को बचाने की जिम्मेदारी सभी देशों की है। भारत इसके लिए सही रास्ता दिखा सकता है। महात्मा गांधी का जीवन, उनके उपदेश, अहिंसा के शस्त्र से आतंकवाद और ग्लोबल वार्मिंग से निपटने का रास्ता मिल सकता है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार की रात लंदन के वेम्बले स्टेडियम में 60 हजार भारतीय मूल के लोगों को संबोधित करते हुए कहा, “आपके सपनों को पूरा करने में भारत समर्थ है। विविधता भारत की विशेषता भी है। आन-बान-शान भी है और हमारी शक्ति भी है। भारत की धरती पर कबीर और रहीम की बातें हम सबको प्रेरणा देती रही हैं। आज विश्व में आतंकवाद का इलाज सूफी परंपरा है।”

उन्होंने कहा कि विकास की यात्रा में अब यह देश रुक नहीं सकता। यह देश जवानी से लबालब है। ब्रिटेन में मिला सम्मान पूरे देश का सम्मान है। यहां ठंड में सबके गर्मजोशी से भरे स्वागत ने मुझे घर का अहसास कराया। उन्होंने लंदन में देश की आजादी के लिए संघर्ष करने वाले दिवंगत श्यामजी वर्मा को सौ साल बाद बैरिस्टरी का लाइसेंस पुनः जारी करने पर कैमरन का आभार व्यक्त किया।

प्रधानमंत्री बोले, मेरे दो सपने हैं- सफाई और चौबीस घंटे बिजली। इसलिए हमने सौर ऊर्जा, वायु ऊर्जा और अक्षय ऊर्जा से 150 गीगावॉट ऊर्जा पैदा करने का कार्य शुरू किया है। भारत में बिजली मेगावॉट में आती थी। पहली बार हिंदुस्तान गीगावॉट पर सोच रहा है। उन्होंने कहा कि हमने दुनिया के सूर्यपुत्रों को एकजुट करने का बीड़ा उठाया है।

वो देश जहां सौर ऊर्जा अधिक हैं वे मिलकर सौर ऊर्जा और अक्षय ऊर्जा के क्षेत्र में अनुसंधान करें। इस वैश्विक व्यवस्था का नेतृत्व भारत करेगा। इसकी पहली बैठक महीने के अंत में पेरिस में करने जा रहे हैं।
ब्रिटेन के प्रधानमंत्री डेविड कैमरन ने साड़ी पहने अपनी पत्नी के साथ मंच पर प्रधानमंत्री मोदी का स्वागत किया। मोदी के संबोधन से पहले कैमरन ने कहा कि नमस्ते वेम्बले। अच्छे दिन आने वाले हैं। अच्छे दिन जरूर आएंगे।
वह दिन दूर नहीं जब ब्रिटेन में भारतीय मूल का प्रधानमंत्री होगा।
उन्होंने कहा कि मोदी दुनिया के सबसे बड़े लोकतंत्र के नेता हैं जो लोकतंत्र के जनक देश के दौरे पर हैं। ब्रिटेन भारत की संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में भारतीय दावेदारी का समर्थन करता है।

दो महान देश, एक सुनहरा भविष्य

ब्रिटेन में बसे लाखों भारतीयों में नए जोश का संचार करता संदेश स्टेडियम में समारोह के पोडियम पर भी लिखा गया था। टू ग्रेट नेशंस, वन ग्लोरियस फ्यूचर (दो महान देश, एक सुनहरा भविष्य)। इस कार्यक्रम में शामिल होने के लिए 60 हजार से ज्यादा लोग वेम्बले स्टेडियम पहुंचे।
पीएम के कार्यक्रम को लेकर वेम्बली स्टेडियम में काफी अरसे से तैयारियां जोरों से जारी थीं और पीएम के कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए आयोजक यूरोप इंडिया फोरम ने कोई कसर बाकी नहीं छोड़ी।

ढाई घंटे चला सांस्कृतिक कार्यक्रम

मोदी के स्टेडियम पहुंचने से ढाई घंटे पहले से ही भव्य आयोजन के बीच रंगारंग कार्यक्रम ओलिंपिक की ओपनिंग सेरेमनी की तरह हुए। मोदी के बोलने से पहले शास्त्रीय नृत्य कथक और कुछ लोकनृत्य हुए। रंगारंग कार्यक्रमों में सबसे पहले “बेबी डॉल मैं सोने की” गीत से मशहूर गायिका कनिका कपूर ने हैलो गीत गाया।
मोदी के मेक इन इंडिया कार्यक्रम के मद्देनजर बॉलीवुड गायिका अलीशा चिनाय ने अपना सुपर हिट गाना मेड इन इंडिया गाया। ब्रिटिश गायक जे सीन, भारतीय वायलिन वादक ज्योत्सना श्रीकांत ने भी कार्यक्रम पेश किए। अंत में स्टेडियम में शानदार आतिशबाजी भी हुई।
“भारत अब दुनिया की मेहरबानी नहीं चाहता हम बराबरी चाहते हैं। दुनिया का भारत के प्रति बदला नजरिया एक शुभ संकेत है।” – नरेंद्र मोदी, प्रधानमंत्री
“अच्छे दिन आने वाले हैं। अच्छे दिन जरूर आएंगे। वह दिन दूर नहीं जब ब्रिटेन में भारतीय मूल का प्रधानमंत्री होगा।” – डेविड कैमरन, ब्रिटेन के प्रधानमंत्री

आज का दिन ऐतिहासिक है

दो महान देशों के खास रिश्तों का खास दिन है आज
आपकी गर्मजोशी ने घर का अहसास कराया है
12 साल बाद आपके बीच आया हूं
दो महान देशों के खास रिश्तों का खास दिन है आज
आपकी गर्मजोशी ने घर का अहसास कराया है
12 साल बाद आपके बीच आया हूं
पहले मैं आपसे गुजरात के सीएम के रूप आकर मिला था
देश ने नई जिम्मेदारी देकर भेजा है
हमने बेवजह गरीबी को पालकर रखा है

आपके सपनों को पूरा करने में भारत समर्थ है
भारत को गरीब रहने की कोई वजह नहीं है
कैमरन के बाद प्रधानमंत्री मोदी का भाषण शुरू
भारत जवानी से लबालब है
भारतीयों की खूब बड़ाई करते हैं कैमरन
हमारा देश दुनिया के लिए एक अजूबा है
यूके में मिला सम्मान पूरे देश का सम्मान है
ब्रिटिश संसद के सामने गांधी की मूर्ति हमारे देश का सम्मान है
हमारा देश तेजी से विकास के रास्ते पर चल रहा है
हमारे यहां विविधताएं बहुत अधिक हैं
भारतीय समुदाय का व्यक्ति जहां गया, वहां सभी के साथ रहने का संस्कार लेकर गया
सभी के साथ घुलमिलकर कैसे जिंदगी जी सकते हैं, ये भारतीयों ने विश्वभर में दिखाया
विश्वभर में फैले भारतीयों के माध्यम से ही देश की बेहतर छवि भी बनती है
भारत के प्रति दुनिया का नजरिया बदला है
भारतीय अब दुनिया से मेहरबानी नहीं बराबरी चाहते हैं
जो भी भारतीयों के साथ बात करता है, वह बराबरी के साथ करता है
आतंकवाद या ग्लोबल वार्मिंग को खत्म करने की जिम्मेदारी सभी मानवता में विश्वास करने वाले देशों की है।
भारत आतंक और ग्लोबल वार्मिंग को खत्म करने का रास्ता दिखा सकता है
देश अगर महात्मा गांधी को समझने का प्रयास करें तो आतंकवाद से निपटने का रास्ता मिल सकता है
पंजाब से त्याग-बलिदान की गाथा जुड़ी है
लालकिला से स्वच्छ भारत की बात की
1000 दिनों 18000 गावों तक बिजली पहुंचाएंगे
स्वच्छ भारत अभियान की शुरुआत की है
सोचा नहीं था कि कभी एक चाय बेचने वाला लालकिले पर झंडा फहराएगा
देश के 40 फीसदी लोगों के पास बैंक खाता नहीं था
हर बालिका स्कूल में शौचालय बनाए गए
19 करोड़ नए बैंक खाते खोले गए
देश में बदलाव नजर आने लगा है
गांधी जी का जीवन दुनिया के लिए ताकत है
भारत को समृद्ध बनाना है
भारतीय रेलवे में 100 प्रतिशत एफडीआई को खोला गया है
मेरे लिए एफडीआई का मतलब है फर्स्ट डवलप इंडिया
एफडीआई में 40 फीसदी की वृद्धि हुई है
भारत के प्रति विश्व का विश्वास बढ़ रहा है
इसी से भारत आगे बढ़ेगा
रक्षा क्षेत्र में हम आज भी विदेशों पर निर्भर हैं
दुनिया के सूर्य पुत्र राष्ट्रों को हमने संगठित किया है
रक्षा क्षेत्र में तकनीकी पर काफी जोर दे रहे हैं
सफाई और 24 घंटे बिजली देना मेरा सपना है
भारत अब सूर्य शक्ति राष्ट्र बन सकता है
भारत अब गीगावॉट के बारे में सोचने लगा है
भ्रष्टाचार के दीमक ने देश को तबाह कर रखा है
हमें आधुनिक भारत बनाना है
टीवी के पर्दे पर जो दिखता है केवल वही हिंदुस्तान नहीं है
भ्रष्टाचार के दीमक का भी इलाज है
देश में भ्रष्टाचार कम हुआ, हमारी स्थिति चीन से बेहतर हुई है

Source

Advertisement

रिलेटेड कंटेंट के लिए नीचे स्क्रॉल करे..

Loading...
Advertisement

Leave a Comment