राज्य

कुमार विश्वास ने दिया केजरीवाल को झटका…बीजेपी बोली…सही मौका है

कुमार विश्वास

नई दिल्ली(रिपोर्ट अड्डा) : नई दिल्ली की सियासत से निकल कर पूरे देश में अपनी पहचान बनाने के लिए अरविंद केजरीवाल लगे हुए हैं। दिल्ली में सरकार आप के हाथ में है। अब पंजाब और गोवा पर निगाहें हैं।

आप के अब तक के सफर में केजरीवाल को कई नेताओं का सहयोग मिला। उन्ही में एक हैं कुमार विश्वास, जनता के बीच काफी लोकप्रिय हैं। एक तरह से आम आदमी पार्टी में केजरीवाल के बाद विश्वास ही ऐसे नेता हैं जिन्हे जनता सबसे ज्यादा चाहती है।

पिछले कुछ दिनों से कुमार विश्वास आप के प्रचार अभियान से दूर दिखाई दे रहे हैं। वो पंजाब और गोवा में प्रचार करते नहीं दिखाई दिए। इसी को लेकर कहा जा रहा है कि वो केजरीवाल से नाराज हैं। इसका कारण ये बताया जा रहा है कि कुमार की बीजेपी से नजदीकी केजरीवाल को पसंद नहीं आ रही है। दूसरा कारण ये है कि कुमार विश्वास राष्ट्रवादी नेता के तौर पर स्थापित हो रहे हैं। ऐसे में केजरीवाल उनसे दूरी बना रहे हैं। हालांकि आम आदमी पार्टी इन अटकलों को नकारती है लेकिन जो दिख रहा है उस से यही संकेत मिल रहे हैं।

हाल ही में संजय लीला भंसाली प्रकरण के बाद कुमार विश्वास ने जो कहा वो केजरीवाल की राजनीति के सिद्धांतों से मेल नहीं खाता है। केजरीवाल जहां अभिव्यक्ति की आजादी के नाम पर कला पर हमले का विरोध करते हैं वहीं कुमार विश्वास ने भंसाली पर इतिहास से छेड़छाड़ का आरोप लगा दिया। जाहिर है कि पद्मावती को लेकर कुमार विश्वास का ये बयान केजरीवाल को पसंद नहीं आएगा। याद करिए किस तरह से जेएनयू प्रकरण पर विश्वास ने विरोध किया था। जबकि केजरीवाल ने जेएनयू की घटना का समर्थन किया था।

कुमार विश्वास ने कहा कि कुछ जाहिल किस्म के लोग 19वी मंजिल पर बैठकर ज्ञान देते हैं। ये बयान कुमार विश्वास की राष्ट्रवादी छवि बना रहा है। कुमार विश्वास के इस बयान के बाद बीजेपी खुश है। उसे लग रहा है कि ये सही मौका है जब कुमार विश्वास को बीजेपी में शामिल हो जाना चाहिए। बता दें कि इस बात की अटकलें काफी दिनों से लग रही है कि विश्वास बीजेपी में शामिल होने वाले हैं। वैसे बता दें कि विश्वास पीएम मोदी के प्रशंसक रहे हैं। वो बीजेपी पर तो खुलकर हमला करते हैं लेकिन पीएम मोदी पर सीधा हमला नहीं करते हैं।

Leave a Comment