शादी के बाद दुल्हन के साथ रोमांस के मूड में था पति, लेकिन महिला के इरादे थे कुछ और

अरविंद और सोनी के घर वालों ने बातचीत के बाद शादी तय की थी, शादी धूम-धाम से की है, उनकी जितनी हैसियत थी, उस अनुसार दावत हुई, फिर विदाई के बाद दुल्हन अपने ससुराल आ गई।

New Delhi, Oct 28 : शादी के बाद पहली रात यानी सुहागरात थी, दूल्हा-दुल्हन अपने कमरे में मिलन को तैयार थे, घर के बाकी सदस्य अपने-अपने कमरे में सोने के लिये चले गये। लेकिन जब सुबह हुई तो शादी की धूमधाम मातम में बदल गई। सुबह-सुबह दुल्हन की चीख गूंजने लगे, सब लोग कमरे की ओर दौड़े, तो देखा कि दूल्हा फांसी से लटक रहा था, दुल्हन ने बताया कि जब उसकी आंख खुली, तो उसने देखा कि एक रात पहले जिस शख्स से उसकी शादी हुई थी, उसने खुदकुशी कर ली है। हालांकि बाद में जब इस मामले की सच्चाई लोगों के सामने आई, तो पैरों तले जमीन खिसक गई।

पिछले साल का है मामला
यूपी के फर्रुखाबाद जिले में पिछले साल 2017 में गर्मियों में अरविंद की शादी सोनी से हुई थी, हालांकि अरविंद को इस बात की भनक तक नहीं थी कि ये शादी सोनी की मर्जी से हुई है, या नहीं, शायद ये सवाल अरविंद के मन में आया भी नहीं था, उसने खुद सोनी को देखकर पसंद किया था और फिर शादी के लिये हां कही थी। आपको बता दें कि सोनी की पहले भी एक शादी हो चुकी थी, लेकिन कुछ ही दिनों में उसका तलाक हो गया था, जिसके बाद उसके घर वालों ने अरविंद से उसकी दूसरी शादी करवाई।

घर वालों ने तय की शादी
अरविंद और सोनी के घर वालों ने बातचीत के बाद शादी तय की थी, शादी धूम-धाम से की है, उनकी जितनी हैसियत थी, उस अनुसार दावत हुई, फिर विदाई के बाद सोनी अपने ससुराल आ गई, सुहागरात पर अरविंद अपनी पत्नी के साथ रोमांस के मूड में था, लेकिन उसे इस बात का अंदाजा नहीं था कि उसके साथ क्या होने वाला है, पहले तो सोनी ने अरविंद को अपने करीब आने से रोका और बाथरुम जाने का बहाना बनाया। फिर अरविंद को दूध का गिलास देकर कहा कि वो बाथरुम से आती है, तब तक दूध पी लें, काफी देर के बाद जब सोनी बाथरुम से लौटी, तो अरविंद खर्राटें ले रहा था, दरअसल नींद की गोलियों ने असर किया था, फिर सोनी ने किसी से फोन पर कहा, नींद की गोलियां खाकर वो सो चुका है, कितनी देर में आओगे, इतना कहकर उसने फोन काट दिया।

सोनी का आशिक ससुराल पहुंचा
कुछ देर बाद ही सोनी के कमरे में चुपके से उसका आशिक रवि दाखिल हुआ, जिसका पहले से सोनी से अफेयर चल रहा था, दोनों भागने की तैयारी कर रहे थे, तभी अरविंद की नींद खुल गई, लेकिन वो नींद की गोलियों की वजह से पूरी तरह नहीं जगा था, सोनी ने इशारे में रवि से पूछा कि अब क्या करें, जिसके बाद बिस्तर के नीचे छुपे रवि को एक रस्सी दिखी, उसी रस्सी से उसने अरविंद का गला घोंट दिया और सोनी ने उसका मुंह बंद किया, ताकि चीख ना निकले। कुछ ही देर में अरविंद लाश बन गया, अब रवि ने सोनी से भाग चलने को कहा, तो दुल्हन ने कहा कि अगर भागे तो सबको पता चल जाएगा कि हत्या किसने की है।

लाश को खुदकुशी का रुप दिया
जिसके बाद रवि और सोनी ने मिलकर अरविंद की लाश टांग दी और रवि वहां से चला गया। प्लान के अनुसार सुबह-सुबह सोनी ने शोर मचाना शुरु कर दिया। हल्की पूछताछ के बाद सबने तय किया कि अरविंद का अंतिम संस्कार कर दिया जाए। सोनी के पिता ने पोस्टमॉर्टम ना करवाने का सुझाव दिया, जबकि स्थानीय लोगों ने कहा कि पुलिस को सूचना दी जाए, ताकि पोस्टमॉर्टम हो, आखिरकार पुलिस मौके पर पहुंची, तीन दिन बाद पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में हैरान करने वाला खुलासा हुआ, पूरा शक सोनी पर था, पुलिस ने जब कड़ाई से पूछताछ की, तो पता चला कि उसने ही प्रेमी संग मिलकर हत्या की थी।

रवि के साथ रहना चाहती थी
सोनी ने पुलिस को बताया कि वो रवि से इश्क करती है, लेकिन घर वाले उसकी एक बात सुनने को तैयार नहीं हैं, पहले भी शादी कर दी, लेकिन तब भी उसने रवि से रिश्ता खत्म नहीं किया था, इसी वजह से पहली शादी में खटास पैदा हुई और तलाक हो गया। तब भी सोनी ने घर वालों से कहा था कि रवि से शादी करना चाहती है, लेकिन घर वालों ने उसकी एक ना सुनी, दुबारा उसकी मर्जी के खिलाफ अरविंद से शादी कर दी, उसका मकसद किसी भी हालत में रवि को हासिल करना था।