लाइफ स्टाइल

ढाई साल तक नहीं किया हस्तमैथुन, फिर बोला -आ गई सुपरपावर !

हस्तमैथुन के नुकसान

नई दिल्ली(रिपोर्ट अड्डा): इस खबर को पढ़ने से पहले ये जान लीजिए कि हस्तमैथुन ऐसा विषय है जिसके बारे में कोई खुलकर बात नहीं करता है। ये काम करता तो हर कोई है लेकिन उसके बाद अपराध बोध से ग्रस्त हो जाते हैं। जैसे कोई गलत काम कर दिया हो। हस्तमैथुन हर कोई करता है, अगर कोई ये कहे कि उसने कभी नहीं किया तो वो झूठ बोल रहा है। इसके फायदे और नुकसान को लेकर तमाम तरह की अफवाहें फैलती रहती हैं। आज हम आपको एक ऐसे शख्स के बारे में बताने वाले हैं जिसने हस्तमैथुन को लेकर एक नया ही प्रयोग किया। इस शख्स का नाम ब्रोहित है। इस ने सोशल मीडिया पर एक पोस्ट के जरिए अपने अनभव को बताया है।

ब्रोहित नाम के इस शख्स का दावा है कि उसने दो साल तक हस्तमैथुन नहीं किया। इसका असर ये हुआ कि अब उसके पास सुपरपावर आ गई है। सोशल साइट रेडिट पर ब्रोहित ने जो पोस्ट डाली है उसे पढ़कर आपका दिमाग भी घूम जाएगा। उसकी ये पोस्ट तेजी से वायरल हो रही है। लोगों के लिए ये बहस का एक नया मुद्दा बन गया है। ब्रोहित ने अपनी पोस्ट में लिखा है कि ढाई साल पहले वो रोज़ाना हस्तमैथुन करता है। कभी-कभी तो दिन में कई बार। उसके ख्यालों में हमेशा इसी से जुड़ी बातें आती थी। एक दिन उसने तय किया कि अब हस्तमैथुन नहीं करना है।

ब्रोहित ने लिखा कि आपको इंटरनेट पर इस तरह के तमाम टिप्स मिल जाएँगे। लेकिन कोई भी आदत छोड़ने के लिए इच्छाशक्ति का होना बहुत जरूरी है। उसने लिखा कि ढाई साल तक लगातार हस्तमैथुन बंद करने के बाद उसे अपने व्यक्तित्व में बड़ा परिवर्तन महसूस हुआ। उसके बाद ब्रोहित ने लिखा कि हमारा दिमाग खाली होता है लेकिन हम उसमें तरह-तरह का कचड़ा भर लेते हैं। इंटीमेसी, लड़कियां, गंदी फिल्में और भी न जाने क्या-क्या। उसने लिखा है कि ये सारी चीजें हमारे व्यक्तित्व को खराब कर देती हैं। ब्रोहित के मुताबिक जब से उसने हस्तमैथुन बंद किया तो उसे अजीब सा सुकून मिल रहा है। उसका दिमाग पहले की तुलना में ज्यादा शांत और स्थिर रहता है।

ब्रोहित ने अपनी पोस्ट में लिखा है किु उसका आत्मविश्वास भी बढ़ गया है। लड़कियां उसकी तरफ आकर्षित होने लगीं, वो आसानी से किसी के साथ इंटीमेट हो जाता है। ब्रोहित के मुताबिक उसकी ऊर्जा अलग ही लेवल पर पहुंच गई है, ये सुपरपावर नहीं है तो क्या है। ब्रोहित ने लिखा है कि हस्तमैथुन को लेकर हौव्वा बनाया गया है। आप एक बार तय कर लीजिए तो इसे आसानी से छोड़ा जा सकता है। उसने कहा कि अगर आप ये लड़ाई जीत लेते हैं तो आगे जीवन में बहुत पॉजिटिव एनर्जी मिलेगी। हालांकि ये आसान नहीं होता है शुरुआत में कुछ मुसीबत आती है लेकिन इस से निपटा जा सकता है। ब्रोहित की ये पोस्ट इन दिनों चर्चा का विषय है। लोग बात कर रहे हैं कि क्या वाकई में ऐसा किया जा सकता है।

Advertisement

रिलेटेड कंटेंट के लिए नीचे स्क्रॉल करे..

Loading...
Advertisement

Leave a Comment