चर्चित राष्ट्रीय

पीएम मोदी के सामने सबसे बड़ी चुनौती…सामने खड़ा हो गया अपना ही पुराना साथी !

challenge in front of PM Modi

नई दिल्ली(रिपोर्ट अड्डा): भारतीय राजनीति बदलाव के दौर से गुजर रही है। इस दौर में राजनीति के दो ध्रुव हो गए हैं। एक तरफ मोदी समर्थकों के साथ खुद पीएम मोदी हैं तो दूसरी तरफ तमाम विरोधी दल हैं जो बीजेपी विरोध का झंडा बुलंद कर रहे हैं। हाल के दिनों में जिस तरह से मोदी और बीजेपी ने कामयाबी हासिल की है। उस से सभी दल हैरान हैं। वो मोदी को किसी भी कीमत पर रोकने के लिए कोशिश कर रहे हैं।

यूपी चुनाव के बाद तो कहा जा रहा है कि अगले लोकसभा चुनाव में मोदी को रोक पाना असंभव है। लेकिन कुछ ऐसे नेता भी हैं जो खुद अपनी सियासी जमीन को बचाए रखने में कामयाब हुए हैं। अब वही नेता मोदी के खिलाफ धीरे धीरे ही सही रणनीति को अमली जामा पहना रहे हैं। ये वो नेता हैं जो मोदी की तारीफ भी करते हैं और मुद्दों के आधार पर विरोध भी करते हैं। साथ ही ये 2019 में मोदी विरोधी धड़े के सबसे बड़े चेहरे बन कर उभर सकते हैं।

बात कर रहे हैं नीतीश कुमार के बारे में। नीतीश ने नोटबंदी और सर्जिकल स्ट्राइक को लेकर मोदी की जमकर तारीफ की थी। इस तरह से वो जनता की नजरों में अपनी छवि और चमक बरकरार रख पाने में कामयाब हुए। एक तरफ जहां सभी मोदी विरोधी नेता लगातार मोदी पर हमला करके जनता की नजरों से उतर गए वहीं नीतीश ने न केवल मोदी का समर्थन किया बल्कि खुद भी शराबबंदी जैसे मुद्दों के सहारे अपनी अलग छवि बनाई।

अब राष्ट्रपति चुनाव से ठीक पहले एक बार फिर से बीजेपी विरोधी खेमे की हलचल तेज हो गई है। नीतीश कुमार ने सोनिया से मुलाकात की। इस दौरान नीतीश ने सोनिया से कहा कि मोदी पर हमला करने से कुछ नहीं होगा। एक एजेंडा तय करना होगा और उसी एजेंडे के आधार पर आगे बढ़ना होगा। साफ है कि अब नीतीश कुमार सामने आ रहे हैं। देखना है कि कभी बीजेपी के साथी रहे नीतीश से पीएम मोदी किस तरह से निपटते हैं।

Read Also : देश को बदलने वाले वो नेता जिनके आगे पीएम मोदी भी सिर झुकाते हैं

Leave a Comment