चर्चित राज्य

लालू यादव को ही लपेट देंगे तेजस्वी यादव…बन गए बिहार के केजरीवाल !

tejashwi yadav, तेजस्वी यादव

नई दिल्ली(रिपोर्ट अड्डा): बिहार की राजनीति में लगातार उतार चढ़ाव देखने को मिल रहा है। राज्य के डिप्टी सीएम और लालू के बेटे तेजस्वी यादव अपने काम से चर्चा में हैं। वो दिल्ली के सीएम केजरीवाल की राह पर चल रहे हैं। जिस तरह से केजरीवाल अक्सर पीएम मोदी पर निशाना साधते रहते हैं। उसी तरह से तेजस्वी भी अपना काम छोड़कर पीएम मोदी के पीछे पड़े रहते हैं। पीएम मोदी चार देशों की यात्रा पर गए तो इस पर भी तेजस्वी ने निशाना साधा। उसके बाद सोशल मीडिया पर उनको जमकर ट्रोल किया जा रहा है। Read Also : तेजस्वी बनेंगे बिहार के नए मुख्यमंत्री..राबड़ी देवी ने कर दिया नीतीश के साथ खेला !

पीएम मोदी चार देशों की यात्रा पर गए हैं। उनकी यात्रा का मकसद विदेशी निवेश और अर्थ व्यवस्था को बढ़ावा देना है। प्रधानमंत्री ने अपने कार्यक्रम की जानकारी अपने ट्वीटर हैंडल से देश को दी। इस यात्रा को लेकर तेजस्वी ने एक ट्वीट किया। उन्होंने निशाना साधने वाले अंदाज में पीएम मोदी से पूछा कि क्या इसके लिए उन्होंने सुशील मोदी से इजाजत ली थी। बस इस ट्वीट के बाद से ही सोशल मीडिया पर तेजस्वी की फिरकी ली जा रही है। तेजस्वी ने अंग्रेजी में लिखा था। इसलिए लोगों ने पूछना शुरू कर दिया कि इतनी अच्छी इंग्लिश कहां से सीखी।

ये भी कहा जा रहा है कि तेजस्वी का अकाउंट कोई और हैंडल करता है। इसी के साथ लोगों ने तेजस्वी की तुलना केजरीवाल से करनी शुरू कर दी। कहा जाने लगा कि वो बिहार के केजरीवाल बन गए हैं। जिनके पास सिवा मोदी पर हमला करने के कोई काम नहीं है। एक शख्स ने लिखा कि आप केजरीवाल बनते जा रहे हैं। जिस तरह से केजरीवाल हमेशा मोदी पर हमला करते रहते हैं। उसी तरह से आपभी कर रहे हैं। बेहतर होगा कि आप बिहार के विकास पर ध्यान दें।

लोगों ने सलाह दी कि वो केंद्र सरकार के साथ झगड़ा न करें और जनता ने जिस काम के लिए चुना है वो काम करें। वहीं कुछ लोग ये भी कह रहे हैं कि तेजस्वी को घमंड हो गया है। वो डिप्टी सीएम बिना किसी योग्यता और मेहनत के बन गए हैं। इसलिए अब वो खुद को सबसे ऊपर समझने लगे हैं। इसी के साथ लोगों ने लालू यादव को भी नसीहत दी। कहा कि अपने बेटे को संभालो नहीं तो वो पूरा केजरीवाल बन जाएगा। और उसके बाद हो सकता है कि उनका ही पत्ता काट दे।

Read Also : बिहार की राजनीति में बनते नए समीकरण

Leave a Comment