लालू परिवार को एक और झटका, पत्नी से अलग होने की अर्जी देने के बाद अब तेज प्रताप ने किया ऐसा काम

तेज प्रताप जब पटना लौटेंगे, तो उनकी मां राबड़ी देवी उन्हें समझाएगी, दुबारा से ऐश्वर्या के साथ रहने के लिये मनाएगी।

New Delhi, Nov 06 : लालू परिवार में जारी झगड़े के बीच तेज प्रताप के मान-मनौव्वल का दौर जारी है, लेकिन तेज हैं कि मानने को तैयार नहीं हैं, पिछले चार दिनों से जारी घटनाक्रम में कई बातें सामने आ चुकी है, कल शाम को उन्हें पटना वापस लौटना था, लेकिन वो घर से दूर बनारस जा पहुंचे, सोमवार को लग रहा था कि सबकुछ ठीक होने की राह पर है, लेकिन इसके बाद एक बार फिर तेज प्रताप ने ऐसा कदम उठाया, जिससे उनके समर्थक के साथ-साथ सुरक्षाकर्मी भी हैरान रह गये।

गुपचुप बनारस के लिये रवाना
गया में तेज प्रताप स्वास्थ्य लाभ ले रहे थे, उन्हें सोमवार शाम को पटना वापस लौटना था, जहां उनकी मां राबड़ी देवी और पत्नी ऐश्वर्या इंतजार कर रही थी, लेकिन गया के होटल से वो अपने सुरक्षाकर्मियों को चकमा देकर बनारस के लिये निकल गये। उनके साथ दो दोस्त और एक ड्राइवर है, वो खुद तो फोन नहीं उठा रहे, उनके साथ के लोगों ने बताया कि वो वृंदावन जा रहे हैं। हालांकि बाद में वो बनारस पहुंच गये।

फैसले पर अडिग
माना जा रहा था कि तेज प्रताप जब पटना लौटेंगे, तो उनकी मां राबड़ी देवी उन्हें समझाएगी, दुबारा से ऐश्वर्या के साथ रहने के लिये मनाएगी, इसी वजह से तेज प्रताप घर नहीं लौट रहे हैं, घर वालों के समझाने के बाद भी तेज अपने फैसले पर अडिग हैं, वो खुलकर बोल रहे हैं कि अपना फैसला नहीं बदलेंगे, चाहे अब पीएम मोदी कहेंगे, तो भी एडजस्ट नहीं करेंगे।

तबीयत खराब
इससे पहले रविवार को रांची से पटना लौटने के क्रम में तेज प्रताप गया में ही रुक गये थे, पूर्व मंत्री को बुखार और लूज मोशन की शिकायत थी, जिसके बाद स्थानीय सीएचसी के डॉक्टर ने जांच कर उन्हें दवा दी, वो गया के एक होटल में रुके थे, फिर सोमवार शाम को उन्हें पटना लौटना था, लेकिन सबको चकमा देकर वो बनारस चले गये।

6 महीने पहले शादी
मालूम हो कि तेज प्रताप यादव की शादी करीब 6 महीने पहले ऐश्वर्या से हुई है, उन्होने पत्नी से अलग होने के लिये पटना सिविल कोर्ट में याचिका दायर की है। मामले की सुनवाई 29 नवंबर को होगी, तेज प्रताप की पत्नी बिहार के पूर्व सीएम दरोगा प्रसाद राय की पोती है, उनके पिता राजद से विधायक हैं।