नवजोत सिंह सिद्धू की बड़ी गलती

नवजोत सिंह सिद्धू की बड़ी गलती

नई दिल्ली(रिपोर्ट अड्डा) : पंजाब में कांग्रेस की सरकार है। सिद्धू मंत्री हैं। लेकिन मंत्री होने के बाद भी वो कॉमेडी शो कर रहे हैं। इसी को लेकर सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह नाराज चल रहे हैं। भले ही सिद्धू को शो में भाग लेने की इजाजत मिल गई हो लेकिन उसके बाद भी कैप्टन की नाराजगी कम नहीं हो रही है। िन सबके बीच सिद्धू ने कपिल शर्मा और सुनील ग्रोवर के झगड़े को लेकर ऐसा बयान दिया ह जिसके बाद कैप्टन क्रोध में लाल हो गए हैं।

सिद्धू ने कहा है कि वो कपिल शर्मा और सुनील ग्रोवर के बीच जारी झगड़े को खत्म करेंगे। उन्होंने कहा कि दोनों के बीच सुलह कराना उनकी जिम्मेदारी है। बता दें कि कॉमेडियन कपिल शर्मा और शो में डॉ. मशहूर गुलाटी की भूमिका निभाने वाले सुनील ग्रोवर के बीच हुई लड़ाई के कारण शो पर खतरा मंडरा रहा है। दोनों कलाकारों के बीच हुई लड़ाई में जनता सुनील ग्रोवर का पक्ष ले रही है। ऐसे में अब सिद्धू ने दोनों के बीच सुलह कराने का जिम्मा उठाया है। उन्होंने कहा दोनों कलाकारों के बीच सुलह कराना उनकी जिम्मेदारी है।

सिद्धू का ये कहना जनता को नागवार गुजर रहा है।सोशल मीडिया पर जनता लगातार सिद्धू के इस बयान को आधार बनाकर हमला कर रही है। जनता कह रही है कि अगर अपने शो में दो कलाकारों के बीच सुलह कराने की जिम्मेदारी सिद्धू की है तो फिर जनता की जिम्मेदारी किस पर है। नेता बनना फुल टाइम काम है। वहीं मंत्री बनने के बाद तो 24 घंटे काम करना पड़ता है। भले ही इसको लेकर कोई कानून न हो लेकिन क्या सिद्धू की नैतिक जिम्मेदारी नहीं बनती कि वो जनता की सेवा करें। फुल टाइम राजनीति करें।

इसी को लेकर कैप्टन अमरिंदर सिंह सिद्धू से नाराज चल रहे हैं। उनको लग रहा है कि सिद्धू के इन बयानों के कारण सरकार की छवि जनता के बीच खराब हो रही है। उनका मानना है कि अगर कोई नेता मंत्री बना है तो वो जनता की सेवा करे। जनता ने कांग्रेस को बहुमत हंसाने के लिए नहीं बल्कि विकास के लिए दिया है। जिस तरह से सिद्धू लगातार कांग्रेस आलाकमान को चुनौती दे रहे हैं उस से लग रहा है कि कांग्रेस में उनकी पारी ज्यादा लंबी नहीं चलेगी। पहले से इस बात के कयास लग रहे हैं कि कांग्रेस में सिद्धू को वो आजादी नहीं मिल पा रही है जो बीजेपी में मिलती थी।

Read Also : सिद्धू को मिली सजा…कांग्रेसी बोले… जो मोदी का नहीं हुआ वो हमारा क्या होगा !

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *