चर्चित राष्ट्रीय

नोटबंदी तो ट्रेलर था, पीएम मोदी का अगला कदम यहां पढ़िए

पीएम मोदी की नोटबंदी पर सर्जिकल स्ट्राइक

नई दिल्ली (रिपोर्ट अड्डा) : केंद्र सरकार ने काले धन के खिलाफ एक्शन का जनता से वादा किया था। उस वादे को पीएम मोदी ने पूरा किया। नोटबंदी के जरिए देश के अंदर काला धन रखने वालों पर जोरदार एक्शन लिया गया है। जो विपक्ष पहले ये कहता था कि पीएम मोदी काले धन के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं कर रहे हैं। वही विपक्ष अब काले धन के खिलाफ की गई कार्रवाई से परेशान है। जनता की परेशानी का हवाला देकर केंद्र सरकार पर हमला किया जा रहा है। देश के इतिहास में संभवतः ये पहली बार होगा कि जनता से ज्यादा नेता परेशान हैं।

नोटबंदी के जरिए पीएम मोदी ने काले धन के खिलाफ पहला एक्शन लिया है। लेकिन ये तो सिर्फ ट्रेलर था। अभी तो पूरी फिल्म बाकी है। काले धन के खिलाफ जंग अभी शुरू हुई है। ये मंजिल नहीं है। लेकिन सोचने वाली बात ये है कि जब पहले हमले में ही देश के अंदर काला धन रखने वाले बौखला गए हैं तो अगले वार में उनका क्या हाल होगा। यही सोच सोच कर तमाम विपक्ष परेशान है।

विपक्षी नेताओं, राहुल गांधी, मायावती, ममता बनर्जी और अरविंद केजरीवाल लगातार नोटबंदी का विरोध कर रहे हैं। वो जनता की परेशानी का हवाला दे रहे हैं। लेकिन जनता से ज्यादा वो खुद परेशान हैं। उनकी समझ नहीं आ रहा है कि पीएम मोदी का अगला कदम क्या होगा। केंद्र सरकार काले धन के खिलाफ कई निर्णायक कदम उठाने पर विचार कर रही है। ऐसे में अगर आने वाले दिनों में विपक्ष का विरोध तेज होता दिखाई दे तो हैरान नहीं होना चाहिए।

Read Also : पीएम मोदी पर कुमार विश्वास का बड़ा बयान 

हम आपको बताते हैं कि पीएम मोदी का अगला कदम क्या होगा। काले धन के खिलाफ सरकार का अगला कदम है नोटबंदी से जमा हुई रकम का इस्तेमाल करना। दरअसल सरकार ने देश के गरीबों और मध्य वर्ग के लिए दो बड़ी योजनाओ का खाका तैयार किया है। इन दोनों ही योजनाओं में नोटबंदी से मिला पैसा इस्तेमाल किया जाएगा। सरकार को उम्मीद है कि नोटबंदी से करीब 3 लाख करोड़ का काला धन बाहर आएगा। इसमें से एक लाख करोड़ का इस्तेमाल इन योजनाओं में किया जाएगा। खास बात ये है कि इन योजनाओं का फायदा तुरंत मिलेगा। इसके लिए जनता को इंतजार नहीं करना पड़ेगा। इसका फायदा ये होगा कि पीएम मोदी जनता को समझाने में कामयाब होंगे कि काले धन से देश की जनता की जिंदगी पर कितना सकारात्मक असर पड़ा है। वहीं विपक्ष के हमलों की धार भी कुंद हो जाएगी। यही है विपक्ष के विरोध का असली कारण.

Advertisement

रिलेटेड कंटेंट के लिए नीचे स्क्रॉल करे..

Loading...
Advertisement

Leave a Comment