चर्चित राष्ट्रीय

पीएम मोदी का बड़ा एलान, एक लाख करोड़ रूपये गरीबों के नाम !

पीएम मोदी

नई दिल्ली (रिपोर्ट अड्डा): पिछले कुछ दिनों से लगातार देश में अजीब सी चर्चा हो रही है। नोटबंदी को लेकर हर आम और खास राय दे रहा है। ये हैरान करने वाली बात है कि कैसे सिनेमा और क्रिकेट के अलावा अब गंभीर मुद्दों पर भी पूरे देश में चर्चा हो रही है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 8 नवंबर को नोटबंदी का एलान किया था। उसी के बाद से इसके फायदे और नुकसान की बात हो रही है। जनता इस फैसले को मान रही , इसका स्वागत कर रही है। तो दूसरी तरफ विरोधी दल कह रहे हैं कि जनता परेशान हो रही है। जनता सरकार से इसका बदला लेगी। विरोध और समर्थन हर मुद्दे पर होता है और ये होना भी चाहिए। बहरहाल यहां पर हम बात कर रहे हैं कि नोटबंदी से देश के आम आदमी, गरीब और मध्य वर्ग को क्या फायदा होगा।

ये सवाल इसलिए उठा है क्योंकि सरकार की तरफ से बार बार ये दावा किया जा रहा है कि नोटबंदी से गरीबों और मध्य वर्ग को फायदा होगा। तो सवाल ये है कि क्या फायदा होगा और कब होगा। इस सवाल के जवाब के लिए केंद्र सरकार की तरफ से रिसर्च शुरू हो गई है। पीएम मोदी को उम्मीद है कि नोटबंदी के बाद काफी पैसा सरकार के पास आ जाएगा। बैंकों में लोग लगातार पैसा जमा कर रहे हैं। जो पैसा नहीं आएगा वो काला धन होगा।

तो सरकार उस धन के इस्तेमाल के लिए अभी से विचार कर रही है। यानि अगले साल आम बजट में उन पैसों से क्या योजनाएं शुरू करनी है इनकी चर्चा हो रही है। इसको थोड़ा और साफ करते हैं, केंद्र सरकार वित्त मंत्रालय के आंकड़ों को मान के चल रही है कि नोटबंदी से सरकार के पास करीब 3 लाख करोड़ रूपये होंगे। इन पैसों से गरीबों और मध्य वर्ग के लिए दो बड़ी योजनाएं शुरू करने की योजना है।

Read Alsoमहागठबंधन में दिखने लगे दरार के संकेत, नीतीश के बजाय मोदी का बचाव कर रहें लालू

यगरीबों और मध्य वर्ग के लिए लगभग 1 लाख करोड़ की योजडनाएं शुरू करने का मन बना रही है मोदी सरकार। ये योजना ऐसी होंगी कि इसका फायदा 2019 से पहले सीधा जनता को मिले। इनमें घर से लेकर शिक्षा तक के मुद्दे शामिल हैं। अब अंदाजा लगाइए ऐसी किसी योजना के बारे में। जिसमें एक लाख करोड़ रूपये का बजट हो। जिसकी समय सीमा हो कि ये योजना इस तारीख तक शुरू हो जानी चाहिए। जिसमें इस बात की भी डेडलाइन हो कि इस योजना का फआयदा इस तारीख से मिलना शुरू हो जाना चाहिए। ये सब सोचकर देखिए तो समझ आएगा कि नोटबंदी वो तीर है जिसकी मदद से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 2019 के चुनावी रण के लक्ष्य का संधान किया है। साथ ही देश में एक माहौल तैयार कर दिया है। काले धन के खिलाफ लड़ाई का मसीहा बन गए हैं नरेंद्र मोदी।

Leave a Comment