अवैध संबंधों की वजह से हुई थी बबलू सिंह की हत्या, महिला ने किया सन्न करने वाला खुलासा

पुलिस ने चर्चित बबलू सिंह हत्याकांड में खुलासा करते हुए दावा किया कि डीलर बबलू सिंह का एक विवाहित महिला के साथ अवैध संबंध था, इसी महिला के दूसरे प्रेमी जितेन्द्र तिवारी ने भाड़े के दो गुर्गों से बबलू सिंह की हत्या कराई थी।

New Delhi, Oct 29 : झारखंड के पलामू के चर्चित बबलू सिंह हत्याकांड में पुलिस ने सनसनीखेज खुलासा किया है। पुलिस ने इस मामले में जितेन्द्र तिवारी नामक के एक शख्स के साथ एक महिला को भी गिरफ्तार किया है। आपको बता दें कि बीते 22 अक्टूबर को हुसैनाबाद के सिद्धनाथ टॉकीज के पास डीलर बबलू सिंह की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी, पुलिस जांच में इस मामले में कई हैरान करने वाले खुलासे सामने आये ।

अवैध संबंध की वजह से हत्या
पुलिस ने चर्चित बबलू सिंह हत्याकांड में खुलासा करते हुए दावा किया कि डीलर बबलू सिंह का एक विवाहित महिला के साथ अवैध संबंध था, इसी महिला के दूसरे प्रेमी जितेन्द्र तिवारी ने भाड़े के दो गुर्गों से बबलू सिंह की हत्या कराई थी, पुलिस ने जितेन्द्र तिवारी और महिला दोनों को गिरफ्तार कर लिया है, पुलिस पूछताछ में दोनों ने अपना जुर्म कबूल कर लिया है।

महिला के कहने पर कराई हत्या
विवाहित महिला का बबलू सिंह और जितेन्द्र तिवारी दोनों से अवैध शारीरिक संबंध था, महिला के कहने पर ही जितेन्द्र तिवारी ने बबलू सिंह की हत्या कराई, इसके लिये जितेन्द्र तिवारी ने दो किराये के हत्यारों से मदद ली। सुपारी के बाद दोनों किराये के हत्यारों ने 22 अक्टूबर को पलामू के हुसैनाबाद के सिद्धनाथ टॉकीज के पास गोली मार कर हत्या कर दी।

20 हजार की सुपारी दी
मामले का खुलासा एसपी इंद्रजीत महथा ने प्रेस कांफ्रेस में किया। एसपी ने मीडिया को बताया कि बीस हजार रुपये में जितेन्द्र तिवारी ने दो किराये के हत्यारों को सुपारी दी थी। जिसके बाद दोनों हत्यारों ने बबलू सिंह को गोली मार दी। जितेन्द्र तिवारी और महिला को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है, जबकि दोनों सुपारी किलर फरार हैं, पुलिस दोनों को गिरफ्तार करने के लिये छापेमारी कर रही है।

बबलू सिंह से परेशान थी महिला
विवाहित महिला का बबलू सिंह के साथ अवैध शारीरिक संबंध था, फिर महिला जितेन्द्र तिवारी के संपर्क में आई और उससे भी उसके संबंध हो गये। बबलू सिंह महिला को बार-बार परेशान करता था, वो उसे जितेन्द्र तिवारी से रिश्ता तोड़ने के लिये कह रहा था, जबकि महिला बबलू सिंह से रिश्ता नहीं रखना चाहती थी, लेकिन बबलू उसका पीछा नहीं छोड़ रहा था, जिसके बाद महिला ने जितेन्द्र के साथ मिलकर उसकी हत्या करा दी।