Manohar Parrikar

रूड़की : रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर का कहना है कि ‘मेक इन इंडिया’ अभियान रक्षा संबंधी खरीद के लिए एक प्राथमिकता है। परिचालन संबंधी तैयारी सेना का प्राथमिक काम है क्योंकि हम नहीं चाहते कि लोग हमें आंखें दिखाएं।

रक्षा मंत्री कल आईआईटी रूड़की में तीन दिन के प्रौद्योगिकी उत्सव के पहले दिन रक्षा क्षेत्र में मेक इन इंडिया पहल से जुड़ी एक पैनल वार्ता में बोल रहे थे। उन्होंने कहा, ‘हमें पर्याप्त त उपकरण चाहिए और यह बदल नहीं सकता। मेक इन इंडिया अपनी जगह पर है, हमारी सैन्य तैयारी सबसे उपर है।’

पर्रिकर ने कहा, ‘मैं साफ करना चाहूंगा कि मेक इन इंडिया रक्षा खरीद के लिए हमारी प्राथमिकता है लेकिन पहली प्राथमिकता भूली नहीं जा सकती, अपने पड़ोसियों को ध्यान में रखते हुए हमारी सेना का पहला काम परिचालन संबंधी तैयारी है ताकि कोई हमें आंखें न दिखाए।’

 पठानकोट वायुसेना स्टेशन और गुरदासपुर में आतंकी हमले के बाद देश की रक्षा तैयारियां तेज करने की मांगें हो रही हैं। हाल में विपक्षी कांग्रेस ने पठानकोट हमले से निपटने के तरीके को लेकर संसद में सरकार की आलोचना की थी। हमले में सात सुरक्षा कर्मी मारे गए थे।
भाषा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *