नीतीश कुमार, लालू यादव, राष्ट्रपति चुनाव

नई दिल्ली(रिपोर्ट अड्डा): राष्ट्रपति पद के लिए चुनाव अब पूरे शबाब पर है। एनडीए के रामनाथ कोविंद के खिलाफ यूपीए और विपक्ष ने मीरा कुमार के नाम को आगे किया है। अब कोविंद बनाम मीरा कुमार की जंग होने वाली है। दलित बनाम दलित की लड़ाई हो गई है। मीरा कुमार के नाम के एलान के साथ ही विपक्ष ने समर्थन की कोशिश भी तेज कर दी है। सबसे पहले लालू यादव ने इसके लिए नीतीश कुमार से अपील की। उन्होंने नीतीश से कहा कि वो रामनाथ कोविंद को समर्थन दे कर ऐतिहासिक गलती न करें। उन्होंने नीतीश पर तंज भी कसा औऱ निशाना भी साधा। Read Also : ये क्या हुआ, नीतीश ने गिना डाले लालू के 18 कारनामे, गठबंधन टूटना तय !

दरअसल लालू ने नीतीश को उनके पुराने बयान याद दिलाए हैं। जब नीतीश ने कहा था कि जो विपक्ष तय करेगा वो वही करेंगे। लेकिन 22 जून की बैठक से पहले ही नीतीश ने रामनाथ कोविंद को समर्थन का एलान कर दिया। इस के बाद ही विपक्षी एकता में दरार की बात होने लगी। अब लालू ने कहा है कि नीतीश अपनी ही बात से पलट गए हैं। उन्होंने जिस अंदाज में नीतीश कुमार को नसीहत देने के साथ ताना मारा है उस से संकेत मिल रहे हैं कि बिहार गठबंधन टूट सकता है।

लालू यादव ने कहा कि नीतीश कुमार को मीरा कुमार का समर्थन करना चाहिए। वो बिहार की बेटी हैं। रामनाथ कोविंद का समर्थन करके नीतीश ऐतिहासिल गलती न करें। लालू ने कहा कि समर्थन का फैसला सज्जनता या दुर्जनता के आधार पर नहीं किया जाता है। इसका फैसला विचारधारा के आधार पर किया जाता है। बीजेपी की विचारधारा के हम सभी खिलाफ हैं। अगर कांग्रेस भी कहे कि बीजेपी को समर्थन दो तो हम नहीं देंगे।

क्या नीतीश ने धोखा दिया है इस सवाल पर लालू ने कहा कि नीतीश ने धोखा दिया या नहीं ये नहीं जानते लेकिन उनको मीरा कुमार का समर्थन करना चाहिए। वहीं ये भी कहा कि बिहार में हमारी सरकार है वो चलती रहेगी। लालू के इस बयान पर नीतीश की पार्टी जेडीयू के नेता केसी त्यागी ने दो टूक जवाब दिया है। उन्होंने कहा कि कोविंद को समर्थन का फैसला सोच विचार करने के बाद लिया गया है। इस तरह के फैसले सेेकंडों में नहीं बदलते हैं। कुल मिलाकर लालू और नीतीश के बीच तलाक की स्थिति दिख रही है।

Read Also : Video: हिंदू आतंकवाद पर दिग्विजय सिंह बोले, इस बार तो हद ही कर दी राहुल के गुरू ने

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *