Hindi अंतरराष्ट्रीय

पाक के हिस्से में बजा मोदी का डंका, लहराया तिरंगा

Pakistan balochistan

नई दिल्ली (ब्यूरो, रिपोर्ट अड्डा ) :पीएम मोदी का जादू इन दिनों पाकिस्तान के सिर चढ़कर बोल रहा है। लाल किले की प्राचीर से किया गया एलान पाकिस्तान की बुनियाद हिलाने के लिए काफी था। जिस बलूचिस्तान को पाक दबा कर रखा करता था।पीएम मोदी की आवाज के बाद वहां के हालात हर दिन के साथ एक नई क्रांति का आगाज कर रहे हैं। इसका असर न सिर्फ पाकिस्तान पर पड़ रहा है बल्कि बदलाव कश्मीर की धरती पर भी महसूस किया जा सकता है ।

पाक के हिस्से में आने वाले बलूचिस्तान में, पीएम मोदी की तस्वीर के साथ हिंदुस्तान के तिरंगे लहराये जा रहे हैं। बलूचिस्तान के जाफराबाद, सुई, नसीराबाद डेरा और बुग्ती समेत कई इलाकों में पाकिस्तान के खिलाफ विरोध प्रदर्शन हो रहे हैं। जानकारी मिल रही है कि पाकिस्तान की सेना वहां बलपूर्वक प्रदर्शन रोकने की कोशिश में लगी हुई है।

ये वो ही पाकिस्तान है जो भारत से कश्मीर के लिए लड़ रहा है और कश्मीर के एक हिस्से पर कब्जा भी रखता है लेकिन मोदी सरकार की कूटनीति ऐसे रंग में ढली कि अब बात कश्मीर की नहीं बल्कि बलूचिस्तान की हो रही है। आजादी की ये लड़ाई बलूचिस्तान 1948 से लड़ रहा था। साल 2006 के बाद विरोध की आवाजें पाक के अंदर गूंज रही थी लेकिन पीएम मोदी की तरफ से संकेत मिलने के बाद तो वहां क्रांति की पताका लहराने लगी है।

कश्मीर को लेकर पाकिस्तान शुरू से ही तर्क देता रहा है कि कश्मीर की आवाम पाकिस्तान को अपना देश मानती है। क्योकि वहां पाकिस्तान काझंडा लहराया जाता है। अब जब पाकिस्तान की ही सरजमीं पर ही पाक के झंडे को पैरों तले रौंदा जा रहा है। हिंदुस्तामन के झंडे को लहराया जा रहा है। तो क्या अब पाकिस्तान यूनाइटेड असेंबली में इस बात को स्वीकर करेगा कि बलूचिस्तान को भारत को सौंप दिया जाना चाहिए। जानकारों का कहना है कि पीएम मोदी की कूटनीति का एक हिस्सा है ये। जहां मोदी पाक को ये संदेश देना चाह रहे हैं कि कश्मीर में देश विरोधी नारे लगाओगे तो विरोध की आवाजें पाकिस्तान के भीतर से भी सुनाई दे सकती हैं।

 

Advertisement

रिलेटेड कंटेंट के लिए नीचे स्क्रॉल करे..

Loading...
Advertisement

Leave a Comment