Hindi चर्चित

Modi का ‘Make in India’ अब डाकखाने के भी होंगे ATM.

Modi का 'Make in India ATM

देश बदल रहा है, और इस बदलाव के दौर में जो मंत्र Modi ने देश को दिया उसका असर भी धीरे-धीरे ही सही लेकिन दिखने लगा है. Modi के इस मंत्र का नाम है ‘Make in India’ Modi के इसी मंत्र के तर्ज पर अब देश के डाकखाने भी ATM का संचालन करेंगे. डाक विभाग जल्द ही RBI से अपने ATM की वाणिज्यिक बैंकों के साथ इंटरऑपरेबिल्‍टी के लिए मंजूरी मांगने के लिए आवेदन करने जा रहा है. भारतीय डाक विभाग ने इस साल के अंत तक 10,000 ATM लगाने की योजना बनाई है. दरअसल  इंटरऑपरेबिल्‍टी की सुविधा से दूसरे बैंक के ATM card का प्रयोग दूसरे बैंक के ATM में संभाव होता है.

ग्रामीण क्षेत्रों में बैंकिंग को लोकप्रिय बनाना मकसद

इसके पीछे डाक विभाग का मकसद ग्रामीण क्षेत्रों में बैंकिंग को लोकप्रिय बनाना है. बताया जा रहा है कि इस साल के अंत तक डाक विभाग देशभर में 10 हजार ATM और 20 हजार माइक्रो ATM लगाएगा. इंटरऑपरेबिल्‍टी से डाक विभाग के ATM से लोग अपने बैंक खाते का भी पैसा निकाल सकेंगे. अभी तक इस तरह के ATM का इस्तेमाल सिर्फ वहीं व्यक्ति कर सकते हैं जिनका डाक विभाग में खाता है.

2017 तक पेमेंट बैंक !

इसके साथ ही डाक विभाग वित्तीय समावेशन को प्रोत्साहित करने के लिए मार्च, 2017 तक पेमेंट बैंक भी लगाने जा रहा है, जिसके लिए वो इस महीने के अंत तक सलाहकार के नाम को अंतिम रूप दे देगा. पेमेंट बैंक की खास बात ये है कि ग्राहकों को भुगतान सेवाएं देने के साथ-साथ एक ग्राहक से अधिकतम 1 लाख रुपए तक की जमा राशि भी प्राप्त कर सकते हैं. इतना ही नहीं ये इंटरनैट बैंकिंग, ट्रांसफर सुविधा और बीमा के साथ ही म्यूचुअल फंड की बिक्री भी कर सकेंगे.

NEXT >> घट जाएगी आपकी Call दरें !

Leave a Comment