राष्ट्रीय

सोकर देर से उठे हैं तो पढ़िए ये खबर…पीएम मोदी ने कर दिया मालामाल

Modi made people rich

नई दिल्ली(रिपोर्ट अड्डा) :  आम बजट के बारे में सारी जानकारियां आपके पास होंगी। लेकिन एक बात है जो शायद आप नहीं जानते हैं।बजट के पहले औऱ बाद में इस बात पर चर्चा शुरू हो गई है कि क्या यूनिवर्सल बेसिक इनकम वाकई में लागू की जा सकती है।बता दें कि बजट से काफी पहले से ही यूनिवर्सल बेसिक इनकम के बारे में चर्चा शुरू हो गई थी।

कहा जा रहा था कि पीएम मोदी इस योजना को लागू करने के लिए गंभीर हैं। बता दें कि इस योजना के तहत देश के हर नागरिक को एक तय राशि हर महीने दी जाती है। विदेश में ये प्रयोग किया जा चुका है। भारत में नोटबंदी के बाद के हालात पर जनता को राहत देने के लिए इस योजना को लागू करने पर विचार किया जा रहा था।

अब एक बड़ी खबर सामने आ रही है। बजट के बाद वित्त मंत्री जेटली ने भी इस योजना को लेकर इशारा किया था। वहीं चीफ इकॉनमिक एडवाइजर अरविंद सुब्रमण्यम ने भी यूनिवर्सल बेसिक इनकम को रोचक बताते हुए इसे लागू करने को लेकर कुछ संकेत दिए थे। साफ कि पीएम मोदी नोटबंदी के बाद जनता को राहत देने के लिए रास्ते तलाश कर रहे हैं। खास बात ये है कि नोटबंदी के सरकार के पास आए काले धन का इस्तेमाल जनता के लिए करने पर विचार चल रहा है।

अब इस बात के कयास लग रहे हैं कि पीएम मोदी इस योजना को पांच राज्यों के चुनावों के दरमियान लागू कर सकते हैं। पंजाब और गोवा में तो मतदान शुरू हो गया है। कहा जा रहा है कि यूपी चुनाव शुरू होने से पहले यूनिवर्सल बेसिक इनकम योजना को लेकर कोई बड़ा फैसला हो सकता है। विरोधी दलों की नींद इस बात से उड़ गई है। अगर पीएम मोदी इस योजना को लागू कर देते हैं तो न केवल चुनाव में फायदा होगा बल्कि सरकार का जनाधार इतना बढ़ जाएगा कि अगले लोकसभा चुनाव में भी मोदी का डंका बजेगा। हैप्पी शनिवार और सोचिए इस योजना से देश के गरीबों का कितना फायदा होगा।

Read also : पीएम मोदी का नया हाहाकारी प्लान !

Leave a Comment