राष्ट्रीय

किसानों के हित में मोदी का शानदार फैसला…खत्म कर दी बहुत बड़ी टेंशन !

Modi great decision for farmers ended a huge tension

नई दिल्ली(रिपोर्ट अड्डा): हाल के दिनों में देश के किसानों को लेकर कई तरह की चर्चाएं होती  दिखाई दी हैं। खास तौर पर जंतर मंतर पर तमिलनाडु के किसानों के प्रदर्शन से फिर से लोगों को ध्यान किसानों की समस्या की तरफ गया है। यूपी में बीजेपी की सरकार ने किसानों का कर्ज माफ करके जो उदाहरण पेश किया है वो अब देश के दूसरे राज्यों के किसान भी चाह रहे हैं। बहरहाल किसानों के लिए अब केंद्र की मोदी सरकार ने शानदार फैसला लिया है।

केंद्र सरकार ने किसानों की आय पर किसी भी तरह का टैक्स लगाने से इंकार कर दिया है। जी हां ये बात सही है। बता दें कि वित्त मंत्री अरुण जेटली ने इस बारे में जानकारी देते हुए कहा कि कुछ खबरों में कहा जा रहा है कि सरकार कृषि आय पर टैक्स लगा सकती है। ये सारी खबरें पूरी तरह से गलत हैं। सरकार की ऐसी कोई मंशा नहीं हैं। किसानों की मेहनत पर किसी भई तरह का टैक्स नहीं लगेगा। बता दें कि मोदी सरकार लगातार कह रही है कि देश के किसान देश की तरक्की में सबसे बड़ा योगदान दे रहे हैं।

आपको जानकारी दे दें कि नीति आयोग के एक सदस्य ने किसानों की आय पर टैक्स लगाने संबंध बयान दिया था। उसके बाद अरुण जेटली ने अब कहा है कि उन्होंने नीति आयोग की रिपोर्ट पूरी तरह से पढ़ी है। उनका कहना है कि सरकार देश के किसानों की कमाई पर किसी तरह का टैक्स नहीं लगाने वाली है। नीति आयोग के विजन डॉक्यूमेंट में लिखा था कि अभई खेती से हुई हर तरह की आय को टैक्स छूट मिली है। नीति आयोग के सदस्य बिबेक देबरॉय ने कहा है था कि सरकार के संसाधन को बढ़ाने के लिए ध्यान दिया जाना चाहिए।

इसके लिए कृषि आय पर मिलने वाली टैक्स छूट को खत्म किया जाना चाहिए। किसानों से जुड़े सारे मुद्दे बेहद संवेदनशील होते हैं। इसलिए फौरन केंद्र सरकार की तरफ से वित्त मंत्री सामने आए। इस से पहले कि विपक्ष का कोई नेता सवाल करता और इसे मुद्दा बनाता सरकार की तरफ से खुद ही साफ कर दिया गया कि कृषि से होने वाली आय चाहे वो कम हो या फिर ज्यादा उस पर किसी भी तरह का टैक्स नहीं लगेगा। इसी के साथ मोदी सरकार ने किसानों की बहुत बड़ी टेंशन को खत्म कर दिया है।

Read Also : मोदी के इस कदम से किसानों की जिंदगी पर क्या असर पड़ रहा है, पढ़िए इस रिपोर्ट में

Read Also : जानिए, GST का फैसला एतिहासिक क्यों हैं ?

Advertisement

रिलेटेड कंटेंट के लिए नीचे स्क्रॉल करे..

Loading...
Advertisement

Leave a Comment