अंतरराष्ट्रीय

यहाँ होती है मिस कंडोम प्रतियोगिता, सड़कों पर दिखता है ऐसा रंगीन नजारा !

MISS CONDOM

नई दिल्ली(रिपोर्ट अड्डा): दुनिया में अजीब अजीब तरह के कॉन्टेस्ट होते हैं। हर देश में अलग मान्यताएं होती हैं, अलग रिवाज और परंपराएं होती हैं। इन्ही को इन देशों के लोग हर साल उत्साह के साथ मनाते हैं। हम आपको जिस प्रतियोगिता के बारे में बताने वाले हैं, उसे जानकर आप हैरान हो जाएंगे, भले ही ये प्रतियोगिता अजीब लगे लेकिन भारत जैसे देश में इसकी बहुत जरूरत है। समाज में बदलाव आ रहा है लेकिन अभी भी लोगों की सोच पुरानी है। कई ऐसे मुद्दे हैं जिनके बारे में लोग खुल कर बात नहीं करते हैं। जैसे सेक्स आर शारीरिक संबंधों से होने वाली बीमारियों को लेकर हम लोग बहुत ज्यादा संकोची हैं।

हम इन विषयों पर खुल कर बात नहीं करते हैं। जिसके कारण ये बीमारियां बढ़ती हैं। इन्ही सब के प्रति जागरूकता फैलाने के लिए थाईलैंड में हर साल मिस कंडोम प्रतियोगिता का आयोजन किया जाता है। इस प्रतियोगिता को लेकर विवाद भी काफी हुआ है, लेकिन इसके मकसद के कारण वो विवाद पीछे छूट जाते हैं। इस प्रतियोगिता का मकसद सेक्स जनित रोगों के प्रति लोगों को जागरूक करना होता है। बता दें कि थाईलैंड काफी खुला देश है। यहां के कई इलाकों को तो वेश्यावृति का गढ़ तक माना जाता है। ऐसे में यहां पर इस तरह की बीमारियों के फैलने का खतरा हमेशा रहता है।

थाईलैंड में लोगों को इन बीमारियों के प्रति जागरूक करने के लिए मिस कंडोम प्रतियोगिता का आयोजन किया जाता है। इस प्रतियोगिता में लड़कियां कंडोम की शक्ल के गुब्बारे फुलाती हैं। इस दौरान सरेआम सड़कों पर रैैलियां निकाली जाती हैं। जिसमे लड़कियां काफी उत्तेजक कपड़े पहन कर आती हैं। रैली में अश्लील दृश्य भी देखने को मिलते हैं। इसके बाद भी ये प्रतियोगिताय हर साल आयोजित की जाती है। बता दें कि मिस कंडोम प्रतियोगिता का आयोजन थाईलैंड के साथ साथ 4 देशों में होता है। इस प्रतियोगिता में 4 देशों की 20 सुंदर लड़कियां भाग लेती हैं।

प्रतियोगिता में जीतने वाली लड़की को मिस कंडोम का खिताब दिया जाता है। प्रतियोगिता से पहले कई फेमस जगहों पर रैली निकालकर कंडोम के इस्तेमाल और सेक्स जनित रोगों के बारे में जानकारी दी जाती है। साथ ही लोगों को मुफ्त कंडोम भी बांटे जाते हैं। नाच-गाने के साथ रैली निकालते लोग इसे त्योहार की तरह मनाते हैं। इस दौरान कई बार सड़कों पर ही अश्लील हरकतें शुरू हो जााती हैं, जिसके कारण इस प्रतियोगिता को लेकर विवाद खड़ा हो जाता है। भले विवाद होते हैं लेकिन इस कॉन्टेस्ट के जरिए कम से कम लोगों को यौन बीमारियों के बारे में जानकारी तो मिलती है। उनसे बचने के तरीके भी बताए जाते हैं।

रिलेटेड कंटेंट के लिए नीचे स्क्रॉल करे..

Advertisement
Loading...
Advertisement

Leave a Comment