केदारनाथ में हेलिकॉप्टर क्रैश की असली वजह, जो किसी ने नहीं बताई होगी

mi 17

mi 17उत्तराखंड के केदारनाथ में सेना का हेलिकॉप्टर क्रैश हो गया था. वायुसेना का एमआई 17 हेलिकॉप्टर क्रैश हुआ था. हादसे में पायलट सुरक्षित बच गया था. सवार 6 में से एक को चोट आई थी. इस हादसे का कारण अब सामने आया है। हेलीकाप्टर के टायरों के बिजली के तार में उलझकर हवा के तेज दबाव से अनियंत्रित होना हादसे का कारण बताया गया है। मंगलवार सुबह सेना के एमआई-17 हेलीकॉप्टर से केदारनाथ पुनर्निर्माण कार्यों के लिए सिंचाई विभाग का सामान ले जाया जा रहा था। 7 बजे उसने वीआईपी हेलीपैड पर पहली लैंडिंग की।

उसके कुछ देर बाद हेलिकॉप्टर ने: गुप्तकाशी हेलीपैड पर उतरकर सामान भरकर 8.18 मिनट पर फिर केदारनाथ के लिए उड़ान भरी। सुबह करीब साढ़े आठ बजे वीआईपी हेलीपैड से 60 मीटर पहले हेलीकाप्टर के टायरों में बिजली के तार फंस गए, जिस से हवा के तेज दबाव से अनियंत्रित होकर हेलीकाप्टर जमीन पर गिर गया.घटना के बाद  एसडीएम गोपाल सिंह चौहान, निम के प्रभारी कैप्टन सोबन सिंह बिष्ट समेत कई लोग तुरंत पहुंचे।

फौरन रेस्क्यू कर के हेलिकॉप्टर के पायलट विंग कमांडर एसएस मुल्तानी, को-पायलट स्क्वाड्रन लीडर आरएस चौधरी समेत बाकी सवारों को निकाल लिया गया। मामूली रूप से घायल अखिलेश को मौके पर ही इलाज दिया गया। हादसे की खबर जिला प्रशासन की ओर से राज्य और केंद्र सरकार सहित सेना को दी गई।इस घटना के बाद सेना ने जांच के आदेश दे दिए हैं।