अजब गजब

शरीर पर छिपकली गिरने के सारे संकेत…चौंकाने वाले हैं छिपकली के इशारे

छिपकली शरीर शुभ

नई दिल्ली(रिपोर्ट अड्डा): भारतीय ज्योतिष शास्त्र में कई तरह की बातें लिखी हुई हैं। इसी के साथ शुभ और अशुभ के बारे में भी तमाम जानकारियां दी गई हैं।घरेलू जानवरों को लेकर भी कई बातें की गई हैं। खास तौर पर छिपकली को लेकर सकुन और अपशकुन का काफी ख्याल रखा जाता है। आपको बता दें कि शरीर पर छिपकली के गिरने को लेकर लोग घबरा जाते हैं। उन्हे लगता है कि अपशकुन हो गया है। इन धारणाओं को हम तोड़ने वाले हैं।

महिला और पुरुष दोनों के शरीर पर छिपकली के गिरने का अलग अलग असर होता है। महिलाओं के बाएं भाग पर अगर छिपकली गिरती है तो ये फायदेमंद होता है। वहीं पुरुषों के शरीर के दाएं भाग पर छिपकली गिरती है तो ये भी फायदा पहुंचाता है। इसी तरह से छिपकली का नीचे से ऊपर की तरफ चढ़ना शुभ माना जाता है। दिन में खाना खाते समय छिपकली की आवाज सुनाई दे तो ये शुभ मना जाता है। दो छिपकलियां लड़ते हुए दिखाई दे तों पुराने मित्र से अलगाव हो सकता है।

नए घर में जाते समय मरी हुई छिपकली दिख जाए तो उस घर में रहने वाले लोग रोगी हो सकते हैं। अब आपको शरीर के अंगों पर छिपकली के गिरने का प्रभाव बताते हैं। माथे पर अगर छिपकली गिरे या फिर छू जाए तो संपत्ति हासिल होती है। बालों पर छिपकली गिरे तो ये मृत्यु का संकट दिखाता है। दाएं कान पर छिपकली गिरे तो गहने मिल सकते हैं। बाएं कान पर छिपकली गिरने का मतलब आप लंबी उम्र वाले हैं। दाएं पैर व दाईं एड़ी पर छिपकली गिरना यानी यात्रा से लाभ मिलता है। बाएं पैर या बाईं एड़ी पर गिरने से बीमारी या घर में कलह होगी तथा दुख होगा। दाएं पैर के तलवे पर छिपकली गिरने का मतलब ऐश्वर्य की प्राप्ति है। जबकि बाएं पैर के तलवे पर गिरने पर व्यापार में नुकसान उठाना पड़ता है।

दायीं आंख पर छिपकली गिरे तो अच्छे दोस्त मिल सकते हैं। बायीं आंख पर गिरे तो बड़ा नुकसान हो सकता है। नाक पर छिपकली गिरे तो भाग्य उदय हो सकता है। गर्दन पर छिपकली गिरे तो सौभाग्य और यश बढ़ता है। दाढ़ी पर छिपकली गिरे तो बड़ा औऱ भयानक संकट आ सकता है। मूंछ पर छिपकली के गिरने सा संकेत है कि सम्मान मिलने वाला है। दाहिने हाथ पर छिपकली गिरने पर धन लाभ तथा बाएं हाथ पर गिरने पर धनहानि होती है।कमर के बीच में छिपकली गिरने पर आर्थिक लाभ होता है। पीठ के दाईं तरफ गिरने पर सुख जबकि बाईं तरफ गिरने पर व्यक्ति रोगी बनता है।

Read Also: जानिए की रत्न क्या हें..कब एवं क्यों धारण करें-Astrology Rashi Gemstones

Advertisement

रिलेटेड कंटेंट के लिए नीचे स्क्रॉल करे..

Loading...
Advertisement

Leave a Comment