बीच बाजार में करवाचौथ पर मां-बाप से हुई बड़ी गलती, पुलिस अंकल ने की मदद

करीब दस मिनट बाद ही हाथों में मेहंदी लगाये बच्ची की मां पहुंची, तो उसके होश उड़ गये, हालांकि जब लोगों ने उन्हें उनकी लापरवाही की बात बताई, तो उन्हें अपनी गलती का एहसास हुआ।

New Delhi, Nov 01 : एक दंपत्ति ने करवाचौथ के दिन बड़ी लापरवाही की, हालांकि एक पुलिस वाले की सतर्कता की वजह से कोई बड़ी घटना होने से बच गई, दरअसल पति-पत्नी 8 महीने की बच्ची को लेकर बाजार गये थे, मां मेंहदी लगवाने लगी, तो पापा भी खरीददारी में व्यस्त हो गये, पति-पत्नी ने अपनी बच्ची को कार में ही छोड़ दिया। इस दौरान कार में बंद बच्ची का दम घुटने लगा, जिसके बाद वो रोने लगी। वो हाथ-पैर मार रही थी, तभी गश्त कर रहे दरोगा एनपी सिंह की नजर बच्ची पर पड़ी, उन्होने तुरंत कार का पिछला शीशा तोड़कर गेट खोला और बच्ची को बाहर निकाला ।

बच्ची को छोड़ चले गये माता-पिता
नोएडा पुलिस के अनुसार करवाचौथ वाले दिन शाम करीब पांच बजे सेक्टर 110 के मार्केट में एक दंपत्ति कार से पहुंचे, मार्केट में महिला को मेंहदी लगवानी थी, और उनके पति को घर के लिये कुछ सामान लेना था, उन्होने अपनी बेटी को कार में ही छोड़ दिया और कार लॉक कर दोनों वहां से चले गये।

घुटन होने लगी
बच्ची जगी हुई थी और कार में ही खेल रही थी, मम्मी-पापा ने उसे आगे की सीट पर बिठाकर खेलने के लिये एक चाबी रिंग दे दिया और खुद मार्केट चले गये। कार में करीब आधे घंटे तक बंद होने के कारण बच्ची को घुटन महसूस होने लगी, जिसके बाद वो जोर-जोर से रोने लगी और कार के शीशे पर हाथ मारने लगी।

पुलिस ने शीशा तोड़ बच्ची को बाहर निकाला
जब कार के आस-पास के लोगों ने कार के भीतर बच्ची को रोते हुए देखा, तो उन्होने मां-बाप की तलाश करनी शुरु की, लेकिन मां-बाप का कुछ भी पता नहीं चला, तब तक वहां मार्केट के पास के चौकी प्रभारी एनपी सिंह पहुंचे, उन्होने तुरंत कार के पीछे का शीशा तोड़ा और गेट खोला, फिर बच्ची को अपने गोद में लिया, जिसके बाद बच्ची चुप हुई ।

मां-बाप ने माफी मांगी
करीब दस मिनट बाद ही हाथों में मेहंदी लगाये बच्ची की मां पहुंची, तो उसके होश उड़ गये, हालांकि जब लोगों ने उन्हें उनकी लापरवाही की बात बताई, तो उन्हें अपनी गलती का एहसास हुआ, इसके बाद दंपत्ति ने लोगों और पुलिस से अपनी गलती के माफी मांगी और सबको धन्यवाद भी कहा।