चर्चित राज्य राष्ट्रीय

केजरीवाल को आई पीएम मोदी की याद, लगाई गुहार, बोले बचा लो

 kejriwal ne modi se kaha bacha lo

नई दिल्ली (रिपोर्ट अड्डा): केंद्र सरकार के खिलाफ हमेशा हल्ला बोलने वाले केजरीवाल इन दिनों परेशान हैं। उनकी सियासत का आधार पीएम मोदी की बुराई रहा है। वो देश के इकलौते मुख्यमंत्री हैं जो अपने काम के कारण कम और पीएम मोदी पर हमलों के कारण ज्यादा चर्चा में रहते हैं। दिल्ली की सत्ता संभालने के बाद से ही केजरीवाल पीएम मोदी को गालियां दे रहे हैं। सियासी लाभ के लिए वो पीएम मोदी को पागल और मनोरोगी तक कह चुके हैं। लेकिन अब दिल्ली में हालात खराब हो रहे हैं। एक समस्या ने केजरीवाल की नींद उड़ा ली है।

ऐसे में अब केजरीवाल को पीएम मोदी और केंद्र सरकार की याद आई है। हैरानी होती है कि कैसे एक नेता अपने सियासी फायदे के लिए केंद्र सरकार को कोसता है और जरूरत पड़ने पर समस्या के समाधान के लिए उसे ही याद करता है। बात कर रहे हैं दिल्ली में स्मॉग के हालात के बारे में। दिल्ली में धुंध के कारण हालात बेहद खराब हैं। जानकार मान रहे हैं कि अगर आप बाहर निकले तो 40 सिगरेट के धुओं के बराबर प्रदूषण आपसे शरीर में जाएगा। खुद केजरीवाल अब मान रहे हैं कि दिल्ली गैस चैंबर में बदल गई है। इसके लिए भी केजरीवाल ने पंजाब और हरियाणा के किसानों को दोषी माना है।

केजरीवाल ने कहा कि अब दिल्ली में हालात बेहद खराब हो गए हैं। दिल्ली गैस चैंबर में तब्दील हो गई है। मैं पीएम मोदी और केंद्र सरकार से अपील करता हूं कि वो इस मामले में दखल दें। केजरीवाल ने कहा कि पीएम मोदी को राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक करके समस्या का समाधान निकासना होगा।

ये अपील करते हुए केजरीवाल भूल गए कि दिल्ली में सरकार चलाने की जिम्मेदारी उन्हे दी थी। नरेंद्र मोदी को देश चलाने की जिम्मेदारी दी थी। लेकिन जब केजरीवाल ने देखा कि दिल्ली में हालात काबू से बाहर होते जा रहे हैं तो उन्हे पीएम मोदी की याद आई। यही केजरीवाल हैं जो दिल्ली को छोड़कर पंजाब में सत्ता हासिल करने के सपने देख रहे हैं और अब उसी पंजाब के किसानों को दोषी ठहरा रहे हैं।

Read also :  अरविंद केजरीवाल जेल जाने को तैयार रहें: बीजेपी

सियासत है भाई, और केजरीवाल अब आम आदमी से घाघ राजनेता बन गए हैं। उन्हे पता है कि किस हालात में क्या करना है। वो पंजाब में किसानों को सपने दिखाते हैं। दिल्ली में आ कर उन्ही किसानों को दिल्ली के प्रदूषण के लिए कसूरवार मानते हैं। केजरीवाल खुद कन्फ्यूज हैं कि वो करना क्या चाहते हैं। कुल मिलाकर मुद्दा ये है कि वो किसी भी बहाने पीएम मोदी और केंद्र सरकार पर हमला करने का बहाना खोजते हैं। पूर्व सैनिक की खुदकुशी पर उन्होने पीएम मोदी को घेरा। वन रैंक वन पेंशन पर घेरा। अब दिल्ली में प्रदूषण की समस्या हुई तो केजरीवाल जी को याद आए प्रधानमंत्री मोदी।

Advertisement

रिलेटेड कंटेंट के लिए नीचे स्क्रॉल करे..

Loading...
Advertisement

Leave a Comment