Hindi राज्य

भ्रष्‍टाचार से चिंतित केजरीवाल ने शुरू की साप्‍ताहिक क्लास, विधायक देंगे रिपोर्ट

arvind kejriwal letter to Modi for JNU
नई दिल्ली (ब्यूरो, रिपोर्ट अड्डा): दिल्ली में प्रचंड बहुमत के साथ आम आदमी पार्टी (आप) की सरकार बनने के बाद भी आए दिन मंत्री और विधायकों की गतिविधियों से सरकार के कामकाज पर सवाल उठने लगे हैं।
इसे देखते हुए मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने हर सप्ताह अपने विधायकों का क्लास लेने का फैसला लिया है। वह हर शनिवार को अपने-अपने विधानसभा की प्रत्येक गतिविधियों, वहां कराए जा रहे विकास कार्य, लोगों की समस्याओं और उसके निदान के बारे में विधायकों की जुबानी सुनेंगे।
दिल्ली में आप सरकार बनने के बाद लगातार ऐसे मामले सामने आए हैं, जिनसे पार्टी की छवि को नुकसान पहुंचा है। पूर्व मंत्री राखी बिड़ला के जन्मदिन पर उन्हें स्कॉर्पियो गाड़ी भेंट किए जाने का मामला सुर्खियों में रहा। उसके बाद कानून मंत्री बनाए गए जितेन्द्र तोमर की फर्जी डिग्री का मामला सामने आया। आप विधायक मनोज कुमार और पूर्व कानून मंत्री सोमनाथ भारती की गिरफ्तारी से भी पार्टी की छवि प्रभावित हुई है।
भारती के खिलाफ आवाज चूंकि उनकी पत्नी ने ही बुलंद की थी, लिहाजा पार्टी के लिए उनका बचाव करना बेहद मुश्किल साबित हुआ। इन विवादों के बाद भी केजरीवाल ने इनमें से एक को भी पार्टी से नहीं निकाला है।

गत माह दिल्ली सरकार के खाद्य एवं आपूर्ति विभाग के मंत्री आसिम अहमद खान के खिलाफ भ्रष्टाचार की शिकायत मिलने के बाद मुख्यमंत्री ने तत्काल प्रभाव से उन्हें मंत्री पद से बर्खास्त कर दिया था। ऐसे मामले फिर न सामने आएं, इसलिए केजरीवाल ने विधायकों की क्लास लेने का निर्णय लिया।
सुविधानुसार मुख्यमंत्री निवास व दिल्ली सचिवालय में हर शनिवार को विधायकों को अलग-अलग समूह में बुलाया जाएगा। पहले उनसे कामकाज का ब्योरा लिया जाएगा, फिर आगे की योजनाओं पर चर्चा होगी। इसके बाद विधायकों से विधानसभा क्षेत्र के लोगों की अपेक्षाओं के बारे में सुनेंगे। साथ ही विधायक भी अपनी अपेक्षाएं व समस्याएं मुख्यमंत्री के समक्ष रख सकेंगे।

Leave a Comment