Hindi अजब गजब धार्मिक

तो इसलिए करवा-चौथ के दिन महिलाएं छलनी का इस्तेमाल करती हैं

karwa chauth ke din mahila chalni

नई दिल्ली (रिपोर्ट अड्डा): करवाचौथ का व्रत सुहागन अपने पति की लम्बी उम्र के लिये करती हैं। हिन्दू धर्म में सुहागनों के लिये करवाचौथ का बहुत महत्व हैं। इस दिन पति की लंबी उम्र और अखण्ड सौभाग्य के लिये चाँद की पूजा की जाती हैं।

महिलायें चाँद का दर्शन कर अपना व्रत खोलती हैं। करवा चौथ पर चाँद को हमेशा छलनी से ही देखा जाता हैं ये तो हम सब को पता हैं। लेकिन, क्या आपको पता है की इसके पीछे की वजह क्या हैं?

इस व्रत की कथा के अनुसार एक बार किसी बहन के भाइयों ने प्रेमवश अपनी बहन को भोजन करवाने के लिये छल से चाँद की जगह छलनी की ओट में दीपक जला कर दिखा दिया।और भोजन करवा दिया। इस तरह उसका व्रत भंग हो गया। इसके पश्चात उसने पूरे साल चतुर्थी का व्रत रखा। और जब करवाचौथ आई तो उसने पूरे विधि-विधान से व्रत किया। और उसे सौभाग्य की प्राप्ति हुई। उस करवाचौथ पर उसने हाथ में चलनी लेकर चाँद के दर्शन किये।

इसलिये छलनी का रहस्य यह हैं की कोई व्रत भंग ना करवा दे महिलाएँ छलनी से बारीकी से चाँद को देखकर व्रत खोलती हैं।

Advertisement

रिलेटेड कंटेंट के लिए नीचे स्क्रॉल करे..

Loading...
Advertisement

Leave a Comment