उपेन्द्र कुशवाहा के बयान के बाद जदयू का पलटवार, सीएम पद रसगुल्ला या मीट-भात नहीं

उपेन्द्र कुशवाहा ने गुरुवार को पटना में अपनी पार्टी के एक कार्यक्रम के दौरान कहा था कि मै ये कोई राजनीतिक बयानबाजी या फिर मजाक नहीं कर रहा हूं, नीतीश ने खुद मुझसे कहा था कि वो साल 2020 के बाद सीएम नहीं बने रहना चाहते हैं।

New Delhi, Nov 02 : रालोसपा प्रमुख उपेन्द्र कुशवाहा ने ये कहकर बिहार की सियासत में बवाल मचा दिया था कि नीतीश अब सीएम नहीं रहना चाहते, 15 साल में उनका मन भर चुका है, प्रदेश का अगला मुख्यमंत्री नया चेहरा होगा। उनके इस बयान पर अब जनता दल यूनाइटेड के प्रवक्ता ने पलटवार किया है, जदयू प्रवक्ता अजय आलोक ने रोहतास जिले के विक्रमगंज में कहा, सीएम की कुर्सी कोई रसगुल्ला या मीट भात नहीं है, जिसे 15 साल खाने के बाद मन भर जाए, ये एक बड़ी जिम्मेदारी है, जिसे नीतीश कुमार पिछले 15 साल से निभा रहे हैं। इसके साथ ही उन्होने ये भी कहा कि नीतीश को जनता ने सीएम बनाया है, जब तक जनता चाहेगी, वो मुख्यमंत्री बनें रहेंगे।

जनता उन्हें चुनती रहेगी
जदयू प्रवक्ता अजय आलोक ने पूरी तरह से उपेन्द्र कुशवाहा की बात को नकारते हुए कहा कि अभी अगले 10 से 15 साल तक सुशासन बाबू ही मुख्यमंत्री रहेंगे, क्योंकि जब तक वो शारीरिक और मानसिक रुप से स्वस्थ्य हैं, जनता की आकांक्षाओं पर खरे उतरते रहेंगे, जनता उन्हें चुनती रहेगी। हालांकि जदयू में जब प्रशांत किशोर को उपाध्यक्ष बनाया गया, तो चर्चा शुरु हो गई, कि नीतीश ने अपना उत्तराधिकारी चुन लिया है।

10 साल कोई पद नहीं लेना चाहते पीके
आपको बता दें कि प्रशांत किशोर ने जब जदयू ज्वाइन किया, तो नीतीश ने खुद उन्हें पार्टी का भविष्य बताया, जिसके बाद कयास लगने लगे, कि नीतीश के बाद पार्टी को पीके संभालेंगे, हालांकि उन्होने एक इंटरव्यू में खुलकर कहा कि ना तो वो अभी राज्यसभा जाएंगे, और ना ही लोकसभा का चुनाव लड़ेंगे, वो 10 साल बिहार की जनता के लिये काम करना चाहते हैं, अपने इस फैसले से पीके लोगों को संदेश देना चाहते हैं कि पद की उन्हें लालसा नहीं है, वो बिहार की जनता का सेवा करना चाहते हैं।

कुशवाहा ने क्या कहा था
मालूम हो कि रालोसपा चीफ ने गुरुवार को पटना में अपनी पार्टी के एक कार्यक्रम के दौरान कहा था कि मै ये कोई राजनीतिक बयानबाजी या फिर मजाक नहीं कर रहा हूं, नीतीश ने खुद मुझसे कहा था कि वो साल 2020 के बाद सीएम नहीं बने रहना चाहते हैं। उन्होने दावा करते हुए कहा था कि नीतीश ने उनसे कहा कि अब 15 साल सीएम रह लिया और कितने दिनों तक सीएम रहूंगा, अब मन भर चुका है।

जदयू प्रवक्ताओं को चेतावनी
केन्द्रीय मंत्री ने दावा किया था कि कुछ महीने पहले नीतीश कुमार ने ये बातें उनसे भारी मन से कही थी, हालांकि बाद में उपेन्द्र कुशवाहा अपने बयान से पलट गये, उन्होने कहा कि हम दोनों के रिश्ते को गलत समझने वाले एक दिन धोखा खाएंगे, जदयू प्रवक्ताओं को चेतावनी देते हुए उन्होने कहा था कि वो मेरे बड़े भाई है, जितना मैं उन्हें जानता हूं, उतना ही वो भी मुझे जानते हैं, इसलिये सोच-समझ कर बयानबाजी करें।