राष्ट्रीय

India का रियल जेम्स बॉन्ड, अजित कुमार डोभाल, क्यों डरता है पाकिस्तान ?

ajit doval indian jems bond

नई दिल्ली (रिपोर्ट अड्डा):आज पाकिस्तान के लिए सबसे बड़ी मुसीबत का नाम है पंडित अजीत कुमार डोभाल. चाणक्य का दिमाग और बाजीराव के हौंसले का नाम हैं अजीत कुमार डोभाल। असली ज़िन्दगी का jmes bond. जिसने बलूचिस्तान में raw को active किया। बलूचिस्तान को international मुद्दा बनाया। sep 2016 के सर्जिकल स्ट्राइक के बाद डोभाल ने पाकिस्तान की नींदें ही उड़ा दी।

भारत की Defence Policy को aggressive बनाया। भारत में घुस रहे पाकिस्तानी ship को बिना किसी warning के उड़ाया।अजीत कुमार डोभाल, IPS (सेवानिवृत), भारत के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार हैं। डोभाल भारत के 5वें सुरक्षा सलाहकार हैं। वे 30 May 2014 से इस पद पर हैं।

उनका जन्म 20 jan 1945 को उत्तराखण्ड के गढ़वाल में हुआ। वें 1968 में केरल कैडर से IPS के लिये चुन लिए गए। 2005 में intelligence ब्यूरों के पद से रिटायर्ड हुए। उन्होनें सक्रिय रूप से पंजाब, कश्मीर, और मिज़ोरम के उग्रवाद विरोधी अभियान में भाग लिया।
भारतीय सेना के एक important ऑपरेशन Blue star में एक जासूस की भूमिका निभाई। इस दौरान वे पाकिस्तानी जासूस के रूप में खलिस्तनियों का विश्वास जीता और important जानकारी उपलब्ध कराई।

डोभाल ऐसे खतरनाक कामों को अंजाम दे चुके है जिसके सामने Jems Bond के कारनामें भी फिके लगते है। वर्तमान में राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार के पद पर बैठे डोभाल से कई मंत्री भी घबरातें है।
म्यांमार में सर्जिकल स्ट्राइक के द्वारा डोभाल नें आतंकियों को सीधा और साफ संदेश दिया की भारत अब रक्षात्मक और आक्रामक रवैया अपनायेगा।

एक ऐसा भारतीय जो पाकिस्तान को सीधे सीधे ब्लूूचिस्तान को छीन लेने की चेतावनी देता है। जो पाकिस्तान के लाहौर में 7 साल मुसलमान बन कर देश की रक्षा के लिए प्रतिबद्ध रहा।

Leave a Comment