धार्मिक

घर में है गंगाजल, तो जानिए कहां और कैसे रखना है, हमेशा गलती करते हैं

घर में है गंगाजल

नई दिल्ली(रिपोर्ट अड्डा): गंगा का महत्व हमारे जीवन और समाज पर कितना है इसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि गंगा नदी को जीवित माना जाता है। कई राज्यों में इसे जीवित दर्ज मिला हुआ है। इसके अलावा पुरातन काल से ही गंगा को जीवनदायिनी कहा जाता रहा है। कैलाश में भोलेनाथ की जटाओं में निवास करने वाली गंगा को राजा भगीरथ धरती पर लाए थे। गंगाजल की हिंदू धर्म में बहुत मान्यता है। कोई भी शुभ काम हो तो गंगाजल की जरूरत पड़ती है। गंगाजल की कुछ बूंदों से ही पूरा घर पवित्र हो जाता है। आजकल हर घर में गंगा जल पाया जाता है। अगर आपके घर में भी गंगाजल है तो ये खबर ध्यान से पढ़ें। घर में गंगाजल रखना अच्छी बात है लेकिन गंगाजल को कहां और कैसे रखना है, और गंगाजल घर में होने के बाद क्या काम नहीं करने चाहिए क्या इसके बारे में आपको जानकारी है।

गंगाजल को कहां रखना चाहिए
गंगाजल पवित्र माना जाता है। कोई भी शुभ काम शुरू करने से पहले लोग इसका इस्तेमाल अवश्य करते हैं. कोई भी वस्तु पवित्र करनी हो या कोई भी स्थान पवित्र करना हो, गंगाजल से ही होता है। यहां तक की जीवन और मृत्यु होने पर भी गंगाजल का उपयोग होता है। लेकिन गंगाजल को लेकर क्या सावधानियां बरतनी चाहिए इसके बारे में लोगों को बहुत कम पता है। उनको तो ये लगता है कि गंगाजल घर पर लाकर रख लिया तो यही बहुत है। इसी कारण से कई बार ऐसी गलतियां हो जाती हैं जिसके कारण नुकसान का सामना करना पड़ता है। हम आपको बताएंगे कि गंगाजल को लेकर क्या सावधानियां बरतनी चाहिए।

प्लास्टिक की बोतल में न रखें
आप अपने घर में गगाजल भले प्लास्टिक की बोतल या डिब्बे में लेकर आएं लेकिन घर में गंगाजल को प्लास्टिक की बोतल में नहीं रखना चाहिए। प्लास्टिक की बोतल में गंगाजल को रखना अशुभ माना जाता है। अगर आप भी प्लास्टिक की बोतल का इस्तेमाल कर रहे हैं तो इसे फौरन बंद कर दें। गंगाजल को तांबे या फिर चांदी के बर्तन में रखें।
जहां रखें वहां सफाई हो
गंगाजल को घर में ऐसे स्थान पर न रखें जहां पर गंदगी हो। जहां भी इसे रखें वहां पर साफ सफाई हो. अगर पूजा घर में गंगाजल रखा है तो वहां भी नियमित सफाई करते रहें। इसके अलावा पूजा घर में भी गंगाजल को सबसे नीचे न रखें। देवी देवताओं की प्रतिमा या तस्वीर के बराबर में जगह दें।

मांस-शराब से दूर रहें
आपके घर के जिस कमरे में गंगाजल रखा है उस कमरे में मास मच्छी या फिर शराब का सेवन न करें। अगर आप ऐसा भूल से भी करते हैं तो वो जगह अपवित्र हो जाएगी और गंगाजल का कोई महत्व नहीं रह जाएगा। इसके अलावा मांस, मछली या फिर शराब का सेवन करने के बाद गंगाजल को हाथ न लगाएं। अगर आपने ऐसा कर दिया तो गंगाजल को फौरन बदल दें। उसकी जगह पर नया जल ला कर रख दें। इसके अलावा घर में गंगाजल है तो उसे नियमित पूजा के समय इस्तेमाल करें। अगर आप गंगा नदी के आस पास नहीं रहते हैं तो फिर उसे शुभ कामों के लिए बचाकर रखें। जो लोग गंगा के पास रहते हैं वो नियमित गंगाजल का इस्तेमाल कर सकते हैं। उनके लिए जरूरी नहीं है कि वो गंगाजल को स्टोर करके रखें वो तो आसानी से गंगाजल हासिल कर सकते हैं। ये कुछ सावधानियां हैं जो गंगाजल को लेकर अपनानी चाहिए।

Advertisement

रिलेटेड कंटेंट के लिए नीचे स्क्रॉल करे..

Loading...
Advertisement

Leave a Comment