चर्चित राष्ट्रीय

सुषमा स्वराज के जज्बे को सलाम, अस्पताल में है भर्ती फिर भी कर रहीं हैं काम

सुषमा स्वराज

नई दिल्ली (रिपोर्ट अड्डा): मोदी सरकार की टीम में सुषमा स्वराज एक ऐसी मंत्री हैं जिनके काम की चर्चा सरकार बनने के बाद से ही हो रही है। पिछले दिनों वो बीमार हो गईं। लेकिन काम करने का जज्बा बिल्कुल भी बीमार नहीं होने दिया। वो अस्पताल से ही विदेश में फंसे भारतीयों की मदद के काम में लगी हुई हैं।

जानकारी के मुताबिक एक भारतीय शख्स ने दुबई में स्वदेश वापसी के संबंध में कोर्ट की कार्यवाही में शामिल होने के लिए हजारकिलोमीटर की यात्रा की। बुधवार को सुषमा ने अस्पताल से ही दुबई में भारतीय वाणिज्य दूतावास से उस भारतीय शख्स के बारे में रिपोर्ट मांगी। और इसकी जानकारी ट्वीट करके दी। सुषमा ने ट्वीट करके बताया कि मैंने दुबई में भारतीय दूतावास से रिपोर्ट मांगी है।

Read Alsoमोदी के पीएम बनने से दुनिया में बढ़ा भारत का मान : सुषमा

क्या है मामला

जगन्नाथ सेल्वराज तिरुचिरापल्ली का मूल निवासी हैं। उन्होने बताया था कि किस तरह वह दुबई के व्यस्त रास्तों पर गर्मी, धूल भरी आंधी और थकावट का सामना करते हुए कोर्ट की कार्यवाही के लिए पहुंचता है। वो सोनापुर में एक सार्वजनिक पार्क में रहता था और वहां से कोर्ट की एक तरफ की दूरी 22 किलोमीटर है।

सेल्वाराज ने अदालत का चक्कर तब लगाना शुरू किया जब तमिलनाडू में उनकी मां की मौत हुई थी। सेल्वराज को मां के अंतिम संस्कार में हिस्सा लेने जाने की इजाजत नहीं मिली थी। उनका मामला करीब दो साल तक चला। सेल्वाराज ने कहा कि उसे सोनापुर से दुबई के करामा जिले में कम से कम 20 बार जाना पड़ा।

गौर हो कि संसद के शीतकालीन सत्र से पहले विदेश मंत्री सुषमा स्वराज की तबियत खासी बिगड़ गई। किडनी फेल हो जाने की वजह से वो पिछले 7 नवंबर से एम्स में भर्ती हैं और आज कल वही से अपने मंत्रालय का काम काज भी देख रही हैं।

Leave a Comment