राज्य

यूपी में समाजवाद या गुंडा राज ! गुंडों ने महिला और उसके पति को बेरहमी से पीटा..

gundon ne mahila aur usake pati ko berahamee se peeta

नई दिल्ली (रिपोर्ट अड्डा): मैनपुरी जहां से खुद सपा दुप्रिमो मुलायम सिंह सांसद है  उस मैनपुरी से कल जो दृश्य निकल कर सामने आया जहां एक महिला अपने पति और 5 साल के बच्चे के साथ कही जा रही थी और कुछ मनचलों ने उस के साथ जोर जबरजस्ती करना चाहा जिस के विरोध करने पर उन मनचलों ने या यूँ कहे उन गुंडों ने उस महिला और उस के पति को बेरहमी से पीटा जिसने महिला का सर फट गया और खून बहने लगी ।

लेकिन सवाल उठता है इस से पहले भी यूपी में बहुत सारी ऐसी घटनाएं हो चुकी है तो समाजवादी सरकार के मुखिया अखिलेश जी को ये सब नजर नही आ रहा है क्या ? क्या उन के हाथ में प्रशासन नही रह गया है ? या आने वाले चुनाव के कारण वो अपने सपाई गुंडों पर लगाम नही लगा पा रहे है ।
खैर ये घटना सामने आ गयी तो जनता ने इस को देखा और आज पूरा हिन्दुस्तान देख रहा है पुरे शोसल मीडिया पर ये छाया हुआ है ।

यूपी में ऐसी घटनाएं आम बात सी हो गयी है औसतन यूपी में हर दिन 11 से 13 रेप होते है जो की लिखित तौर पर सामने आता है और छेड़ छाड़ के घटनावो को उस में जोड़ दिया जाय तो ये आंकड़ा बहुत गंभीर सवाल पैदा करता है ।

उत्तर प्रदेश राज्य क्राइम ब्यूरो द्वारा जारी किए गए इन आंकड़ों के मुताबिक 2014 में उत्तर प्रदेश में 3,467 बलात्कार की घटनाएं हुई थीं, जबकि 2015 में ये बढ़कर 9,075 हो गई। इतना ही नहीं, बलात्कार का प्रयास करने वाली घटनाओं में भी 30 प्रतिशत का इजाफा हुआ है। उस पर भी चौंकाने वाली बात यह है कि अधिकारियों के मुताबिक यह आंकड़े तो किसी फिल्म के ट्रेलर की तरह हैं पिक्चर तो अभी बाकी है।

Read also : क्या मुलायम ने समाजवादी पार्टी पर ये संकट पुत्रमोह में आने दिया !


जब की SCRB की रिपोर्ट के अनुसार 2016 में ये महिला उत्पीड़न और बालात्कार की घटनाओं में 161% फीसदी की बढ़ोतरी हुई है ।
अब ऐसे में जो यूपी के मुखिया अखिलेश जी जो सुशासन का दावा कर रहे है वो कहा तक सही है ये तो अब यूपी की जनता को तय करना है ।
आने वाले यूपी के चुनाव में अखिलेश यादव के दावों की पोल जनता

Advertisement

रिलेटेड कंटेंट के लिए नीचे स्क्रॉल करे..

Loading...
Advertisement

Leave a Comment