अजब गजब

एक बेटी ने पिता को कराया स्तनपान, जानिए पूरी कहानी

ek beti ne pita ko karaaya stanapaan

नई दिल्ली (रिपोर्ट अड्डा): (Daughter breast feeding father) पढ़ कर थोड़ा अजीब लगा ना। आखिर क्या वजह रही होगी की समाज में इज्जत की नजरों से देखा जाने वाला पिता-पुत्री का संबंध सवालों के घेरे में आ गया। लेकिन , आपको जानकर बिलकुल भी अजीब नहीं लगेगा कि उनलोगों के पास इसके अलावा और कोई विकल्प ही नहीं था अभी हाल के दिनों में एक पेंटिंग सोशल मीडिया में चर्चा का विषय बनी हुई हैं। इस पेंटिंग में इस घटना को दर्शाया गया हैं।

पहले आप इस घटना के पीछे की कहानी जान ले फिर खुद ही फैसला कीजियेगा कि जो हुआ वो सही था या नहीं। इस पेंटिंग को यूरोप के प्रसिद्ध कलाकार बार्तोलोमिओं मुरिलों ने बनाया हैं। इसमें एक बेटी जंजीरो से जकड़े अपने पिता को स्तनपान करते दिखाई पड़ रही हैं। आज हम इस पेंटिंग के पीछे छिपी कहानी से आपको रु-ब-रु करवाएंगे।

Read Also  : शर्त लगा लो, ऐसी शादी नहीं देखी होगी 

प्राचीन यरोप में एक बूढ़े व्यक्ति को आजीवन भूखे रखकर जेल में रहने की सजा सुनाई गई। उस आदमी तक खाने की चीज पहुँचाना अपराध था। सघन तलाशी के बाद ही उससे किसी को मिलने दिया जाता था। ताकि कोई खाने की चीज उस तक ना पँहुच पाये। उसकी बेटी से उसकी यह हालत देखी नहीं गई। उसके पिता कमजोरी के कारण अपनी आँखे भी नहीं खोल पा रहे थे। ऐसे में उसने अपने पिता को अपना स्तनपान करवाया। जिससे उसकी हालत में सुधार होने लगा। अब जब भी वो लड़की अपने पिता से मिलने जाती अपने पिता को स्तनपान करवाती। एक दिन जेल के कर्मियों ने उसे ऐसा करते देख लिया।

इस कृत्य को अपराध मानते हुए उसे राजा के सामने पेश किया गया। जनता भी उस बाप बेटी के पक्ष में थी। आखिरकार, मानवीयता जीती। और राजा ने मानवीय मूल्यों का आदर करते हुए दोनों को रिहा कर दिया।

Advertisement

रिलेटेड कंटेंट के लिए नीचे स्क्रॉल करे..

Loading...
Advertisement

Leave a Comment