चर्चित राज्य

समाज के तानों से मजबूर बेटी ने पिता की पिस्तौल से खुद को मारी गोली

बेटी की खुदकुशी

नई दिल्ली(रिपोर्ट अड्डा): पंजाब से एक सनसनीखेज घटना निकल कर सामने आ रही है। खन्ना जिले में एक लड़की ने अपने ही पिता की पिस्तौल से खुद को गोली मार कर आत्महत्या कर ली। मरने वाली लड़की का नाम गगनदीप बताया जा रहा है। उसकी उम्र 30 साल की थी। ये घटना अपने आप में हैरान करने वाली है, मृतका गगनदीप ने एक सुसाइड लेटर भी लिखा था। उस लेटर में उसने अपनी खुदकुशी के कारण के बारे में बताया है। जिसे पढ़कर आपकी भी आंख में आंसू आ जाएंगे। इस घटना के बाद से ही पूरे इलाके में गम का माहौल है। गगनदीप ने जो सुसाइड लेटर लिखा है उस से पता चलता है कि वो कितना परेशान थी। जानकारी के मुताबिक गगनदीप ने अपने पिता भाग सिंह की लाइसेंसी पिस्तौल से सुबह 5 बजे के करीब गोली मारकर खुदकुशी कर ली।

तलाक के बाद जिंदगी नर्क
गगनदीप कौर की शादी कोटलाकला के सरनदीप सिंह से हुई थी। इन दोनों के बीच शादीशुदा संबंध ठीक नहीं थे, जिसके चलते इन दोनों ने पिछली 14 जुलाई को तलाक ले लिया। उसी के बाद से गगनदीप की जिंदगी नरक होना शुरू हो गई। उसने अपने सुसाइड नोट में लिखा है कि पापा, आपने मुझे मेरे भाई से ज्यादा प्यार दिया। मैं खुद भी आपको बहुत प्यार करती हूं। आपने मेरी शादी मेरी खुशी और भले के लिए की। आपने मुझे वो सब दिया जो मैंने मांगा। गगनदीप ने आगे लिखा है कि गांव जोटी के गुरिंदर सिंह, उसकी दादी बलजिंदर कौर और मां गुरमीत कौर ने उसकी लाइफ बर्बाद कर दी। इन लोगों ने मेरे सुसराल वालों के सामने मुझे बदनाम किया। इसका नतीजा ये हुआ कि मैं अपनी हेप्पी फैमिली से दूर हो गई और मेरा तलाक हो गया।

मुझे धमकी देते थे, मैं डर गई थी
इन लोगों ने तलाक के बाद भी सबके सामने धमकियां दी कि अगर मैंने दूसरी शादी की तब भी यह ऐसे ही परेशान करेंगे। सुसाइड नोट में आगे गगनदीप ने लिखा है कि गुरिंदर मुझे अमेरिका से फोन करता और मैसेज करता था, और धमकाता था। गुरिंदर मैसेज में लिखता था कि जहां भी मैं जाऊंगी वो वहां आएगा और मेरी लाइफ को नरक बना देगा। उसकी दादी और मां कहती थी कि गुरिंदर मुझसे पांच लाख रुपए मांगे। मैंने वो सारे मैसेज डर के मारे डिलीट कर दिए।  मैं इन लोगों से बहुत डर गई थी। उसने आगे लिखा कि मैं अब जिंदा नहीं रहना चाहती। मेरे लिए पापा आपकी इज्जत से बढ़कर कुछ भी नहीं है।

पापा आप अपना ध्यान रखना
पापा, मैं आपको उदास और चिंतित नहीं देख सकती।आप पहले ही मेरी दो बार जान बचा चुके हैं। मैं जानती हूं आप मुझे बहुत प्यार करते हैं। लेकिन इन तीनों ने मुझे बहुत बुरी तरह प्रताड़ित किया है। मैं अब जिंदा नहीं रहना चाहती। इन लोगों ने मेरी लाइफ को नरक बना दिया है और जिंदा रहने लायक ही नहीं छोड़ा है। मैंने आपको मम्मी से बात करते हुए सुना है कि मैं दोबार शादी कर लूं। मैं बहुत डरी हुई हूं और जानती हूं कि गुरिंदरऔर उसकी फैमिली मुझे सुख से नहीं रहने देंगे।  मैं बेमतलब की और प्रताड़ित होने वाली लाइफ नहीं जीना चाहती। मेरी मौत के जिम्मेदार गुरिंदर सिंह, उसकी दादी बलजिंदर कौर और मां गुरमीत कौर हैं।  पापा आप और मम्मी अपना ध्यान रखना। इस लेटर के बरामद होने के बाद पुलिस ने जांच शुरू कर दी है। पुलिस का कहना है कि इस मामले में आरोपियों के खिलाफ आत्महत्या के लिए उकसाने का केस दर्ज कर लिया है। पुलिस का कहना है कि आरोपी गुरिंदर सिंह को बेवजह परेशान कर रहा था। हालांकि अभी तक आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं हो पाई है। वो सभी फरार हैं।

Advertisement

रिलेटेड कंटेंट के लिए नीचे स्क्रॉल करे..

Loading...
Advertisement

Leave a Comment