उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव

नई दिल्ली(रिपोर्ट अड्डा) : उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव जारी है। मतदान के दो चरण हो चुके हैं। अभी पांच चरणों का मतदान बाकी है। तीसरे चरण का मतदान 19 फरवरी को है। इन सबके बीच पहले दो चरणों के बाद प्रदेश की सियासी फिजा में जीत और हार के दावे तैरने लगे हैं। समाजवादी पार्टी और कांग्रेस गठबंधन जहां अपनी जीत के दावे कर रहा है तो वहीं बीजेपी उम्मीद जता रही है कि उसे पहले दो चरणों के चुनाव में लगभग 80 सीटें मिल सकती हैं।

इन दोनों के अलावा मायावती की बहुजन समाज पार्टी अपना खेल कर रही है। पहले दो चरणों के बाद बीएसपी ने तेजी से बढ़त बनाई है। सियासी जानकार तक ये मान रहे हैं मायावती की पार्टी दूसरे नंबर पर रह सकती है। यानि कि पहले दो चरणों के मतदान के बाद जो तस्वीर सामने आ रही है उसके मुताबिक बीजेपी पहले नंबर पर और दूसरे नंबर पर बीएसपी है। ये सपा-कांग्रेस गठबंधन के लिए संकट की बात है।

बात करते हैं बीजेपी के बारे में। यूपी चुनाव बीजेपी के लिए नाक का सवाल बन गए हैं। पहले दो चरणों के मतदान के बाद बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह दावा कर रहे हैं कि बीजेपी बहबुमत हासिल करेगी। बीजेपी के समर्थकों के लिए एक खुशखबरी है। चुनाव का बारीकी से अध्ययन करने वाले सियासी जानकार बता रहे हैं कि यूपी में बीजेपी की सरकार बननी तय है। बूथ स्तर पर कार्यकर्ताओं से जो रुझान मिल रहा है उसके मुताबिक प्रदेश में बीजेपी की लहर है।

अगर आंकड़ों की बात की जाए तो यूपी में बीजेपी 250 से 300 सीटों पर जीत हासिल कर सकती है। ये अनुमान पहले दो चरणों में मतदान के प्रतिशत को ध्यान में रख कर लगाया गया है। बता दें कि पहले दो चरणों में बंपर मतदान हुआ है। बंपर मतदान का मतलब है कि प्रदेश की जनता सत्ता परिवर्तन की दिशा में कदम आगे बढ़ा चुकी है। सपा और कांग्रेस गठबंधन को निश्चित तौर पर नुकसान होता दिखाई दे रहा है। वहीं बीएसपी दूसरे नंबर पर आती दिख रही है। आगे के चरणों में भी वोटिंग का यही पैटर्न रहा तो बीजेपी की सरकार बननी तय है।

Read Also : राष्ट्रपति और यूपी के सीएम पद के लिए बीजेपी इस उम्मीदवार पर लगाएगी महादांव !

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *