अजब गजब अंतरराष्ट्रीय चर्चित वीडियो

Video: यहां गाय के पेट में बनाते हैं बड़ा छेद, कारण जानकर चौंक उठेंगे!

गाय-के-पेट-में-छेद

नई दिल्ली(रिपोर्ट अड्डा): हमारे देश में आजकल गोरक्षकों को लेकर हंगामा हो रहा है। गाय के नाम पर हो रही हिंसा से केंद्र सरकार पर निशाना साधा जा रहा है। कथित गोरक्षकों के कारण सरकार को जवाबदेह बनना पड़ रहा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कई मौकों पर कह चुके हैं कि गोरक्षकों का उत्पात राज्यों का मामला है और उनके साथ सख्ती से निपटा जाए। बहरहाल बात गायों की हालत को लेकर हो रही है। बता दें कि हमारे देश में गाय के नाम पर गोरक्षक हिंसा तो करते हैं लेकिन गायों की हालत सुधारने की दिशा में कोई काम नहीं करते हैं। अमेरिका में गायों को लेकर लगातार शोध के बाद एक नया तरीका अपनाया जा रहा है। Read Also: आप लड़की हैं, रात में उबर कैब बुलाने से पहले ये जरूर पढ़ लें, फायदे में रहेंगी !

अमेरिका के किसान गाय की उम्र बढ़ाने के लिए उसके शरीर में एक बड़ा छेद कर देते हैं। बता दें कि वेटनरी शोध के बाद ये साबित हो चुका है कि गाय के शरीर में छेद कर देने से उसे नुकसान नहीं बल्कि फायदा होेता है।  अमेरिका में डेयरी उद्योग से जुड़े लोगों का कहना है कि इससे गायों की बीमारी से होने वाली असमय मौत काफी कम हुई है।hole in cow stomach imageहैरान करने वाली बात तो ये है कि आपने सोशल मीडिया पर कई बार गायों के पेट में छेद वाली तस्वीर देखी होगी। लेकिन उसके पीछे की कहानी हम आपको बता रहे हैं।

दरअसल गायों के पेट में बड़ा छेद कर देने से उनकी बीमारियों के बारे में आसानी से पता लगाया जा सकता है। इस बड़े छेद के जरिए ये भी पता लगाया जा सकता है कि  गाय के पेट में खाना अच्छे से पच रहा है या नहीं। इतना ही नहीं, इस छेद के जरिए गाय के पेट में रहने वाले बैक्टीरिया के बारे में भी पता लगाया जा सकता है। अब आपको बताते हैं कि इस छेद को कहते क्या हैं। गाय के पेट में बने इस छेद को फिस्टूला कहते हैं। शरीर के जिस हिस्से में ये छेद बनाया जाता है उसे रूमेन कहते हैं। जानकारों का कहना है कि गाय के शरीर में छेद करने के लिए सर्जरी की जाती है, तो उसके करीब छह हफ्ते तक गाय असहज होती है

ऐसा नहीं है कि गाय के पेट में छेद करके उसे खुला छोड़ दिया जाता है। ऐसा नहीं होता है। छेद के ऊपर एक ढक्कन लगाया जाता है। इच्छा के अनुसार ढक्कन हटाकर गाय के पेट में झांका जा सकता है। इस छेद के जरिए गाय के बीमार होने पर सीधे दवा उसके पेट में डाली जा सकती है। पेट में गड़बड़ी की गाय के पेट में छेदस्थिति में डॉक्टर हाथ डालकर गाय के पेट को खुद ही साफ कर लेते हैं। हालांकि गाय के पेट में छेद का कई संगठन विरोध करते हैं। उनका कहना है कि जानवरों पर इस तरह के प्रयोग नहीं करने चाहिए। लेकिन अब ये साफ हो चुका है कि फिस्टुला के जरिए गाय को नुकसान नहीं बल्कि फायदा होता है।

Advertisement

रिलेटेड कंटेंट के लिए नीचे स्क्रॉल करे..

Loading...
Advertisement

Leave a Comment