चर्चित राज्य राष्ट्रीय

चाय वाला प्रधानमंत्री के बाद चायवाला मुख्यमंत्री

o-panneerselvam-chief-minister

नई दिल्ली(रिपोर्ट अड्डा): तमिलनाडु की मुख्यमंत्री जयललिता के निधन के बाद उनके उत्तराधिकारी के तौर पर ओ पनीरसेल्वम ने एक सादे समारोह में मुख्यमंत्री पद की शपथ ली। यह उनका इस पद के लिये तीसरा कार्यकाल हैं।

उन्हें यह जिम्मेदारी मिलना हैरानी की बात नहीं हैं। इससे पहले भी 2 बार जयललिता के जेल जाने की स्थिति में वे इस पद को संभाल चुके हैं। 65 वर्षीय पनीरसेल्वम जयललिता के वफादारों में से हैं। सत्ता के गलियारों में इस बात की चर्चा तेज हैं कि प्रधानमंत्री मोदी की तरह तमिलनाडु के नए मुख्यमंत्री सेल्वम भी चाय बेचा करते थे और उनके पिता पार्टी के पुराने वफादार थे।

ओ पनीरसेल्वम के पिता AIADMK के संस्थापक स्वर्गीय एम् जी रामचंद्रन के लिए काम करते थे। एम् जी आर तभी से उनपर मेहरबान थे। पनीरसेल्वम के भाई आज भी पेरियाकुलम में चाय की दुकान चलाते हैं। और उनके परिवार का मुख्य पेशा खेती हैं।

Read Also : पीएम मोदी का बड़ा एलान, एक लाख करोड़ रूपये गरीबों के नाम !

पनीरसेल्वम पहली बार शशिकला के रिश्तेदार टीटीके दिनाकरन के जरिये जयललिता की नजर में आये। उनके बारे में कहा जाता हैं कि चाय की दुकान चलाते हुए उन्होंने उसी से समय निकाल कर ग्रेजुएशन तक की पढाई की। यह बात एम् जी आर को भी पता थी।

Leave a Comment