Hindi राज्य

लालू का विरोध करने वाले नेता को ‘आप’ ने किया सस्पेंड

App Neta suspend

नई दिल्ली : लालू यादव को एक भ्रष्ट सजायाफ्ता अपराधी कहने वाले आम आदमी पार्टी के नेता मुनीश रायजादा को पार्टी से निलंबित कर दिया गया है। गौरतलब है कि बिहार चुनाव जीतने वाले महागठबंधन में लालू यादव सबसे बड़े नेता हैं, जिन्हें अदालत ने चारा घोटाले में अपराधी ठहराया है।

बिहार विधानसभा चुनाव में महागठबंधन के लिए लालू यादव की पार्टी आरजेडी ने ही सबसे ज्यादा सीटें हासिल कीं, जिसका आम आदमी पार्टी के संयोजक और दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल समर्थन कर रहे थे। शिकागो में रहने वाले रायजादा ने केजरीवाल से सवाल किया था कि वह नीतीश कुमार का इस तरह खुला समर्थन क्यों कर रहे हैं। रायजादा ने यह सवाल इसलिए किया था, क्योंकि नीतीश के साथ लालू यादव थे जो भ्रष्टाचार के दोषी हैं और तीन साल पहले ‘आप’ की स्थापना ऐंटी-करप्शन मुद्दे पर ही हुई थी।

Read Also :दिल्ली सरकार करेगी डीडीसीए में भ्रष्टाचार की जांच

हालांकि, आम आदमी पार्टी का कहना है कि रायजादा ने बिना जानकारी दिए एक वेबसाइट बनाई और पार्टी की आंतरिक जानकारी को लीक किया है, जिस वजह से उन्हें निलंबित किया गया है। रायजादा ‘आप’ के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन की सलाहकार भी थे। पार्टी को ऐसा लगने लगा था कि रायजादा पार्टी कार्यकर्ताओं के सामने ऐसी छवि बना रहे हैं कि वह पार्टी के इंटरनैशनल सेल के चीफ हैं, जबकि असल में यह पद पार्टी के वरिष्ठ नेता कुमार विश्वास के पास है।

रायजादा के मुताबिक वह ‘आप’ की एनआरआई सेल के सह-संयोजक थे। एक वेबसाइट के साथ हुई बातचीत में उन्होंने कहा, ‘मैंने लालू को भ्रष्ट कहा था। उन्हें दोषी ठहराया जा चुका है। मैंने एक प्रांसगिक सवाल उठाया था कि क्या लालू जैसे नेता का समर्थन करना सही है और ऐसा करने वाला मैं कोई अकेला नहीं हूं। पार्टी में कई ऐसे कार्यकर्ता हैं जो केजरीवाल द्वारा किए जा रहे नीतीश के समर्थन से नाराज हैं।’

Read Also : नीतीश कुमार को मुन्ना नाम से पुकारते हैं,

‘आप’ की प्रवक्ता प्रीति शर्मा मेनन ने कहा कि पार्टी ने सात नवंबर को रायजादा को एक नोटिस जारी करके उनसे ‘पार्टी विरोधी गतिविधियों’ पर जवाब मांगा है, लेकिन उन्होंने इसका कोई जवाब नहीं दिया। मेनन ने कहा, ‘पार्टी ने रायजादा की प्राथमिक सदस्यता समाप्त कर दी है और उन्हें पार्टी की जिम्मेदारियों से मुक्त कर दिया है।’ मेनन भी एनआरआई सेल में सदस्य हैं। गौरतलब है कि ‘आप’ ने रायजादा का नाम 2014 में चंडीगढ़ से लोकसभा का चुनाव लड़ने के लिए शॉर्ट लिस्ट किया था। हालांकि, बाद में टिकट गुल पनाग को दे दिया गया था।
Source

Leave a Comment